Home /News /nation /

maharashtra crisis shiv sena mp group trying peace efforts with eknath shinde via his son shrikant

शिवसेना में सुलह की उम्मीद? एकनाथ शिंदे के बेटे के जरिए बागियों को मनाने में जुटे पार्टी सांसद

शिवसेना के बागी एकनाथ शिंदे के बेटे श्रीकांत शिंदे कल्याण से सांसद हैं. (फोटो साभार सोशल मीडिया)

शिवसेना के बागी एकनाथ शिंदे के बेटे श्रीकांत शिंदे कल्याण से सांसद हैं. (फोटो साभार सोशल मीडिया)

Maharashtra Political Crisis: अपने सबसे बड़े संकट से जूझ रही शिवसेना को और फजीहत से बचाने के लिए पार्टी सांसदों का एक दल एकनाथ शिंदे के सांसद बेटे श्रीकांत शिंदे से बातचीत कर रहा है. एक रिपोर्ट का दावा है कि कई दौर की बातचीत हो चुकी है.

अधिक पढ़ें ...

    मुंबई. महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर महाविकास अघाड़ी सरकार चला रही शिवसेना इस वक्त अपने सबसे बड़े संकट से जूझ रही है. पार्टी में दो-फाड़ होने के आसार साफ दिख रहे हैं. एकनाथ शिंदे की अगुआई में विधायकों ने बगावत का झंडा बुलंद कर रखा है. पार्टी को और फजीहत से बचाने के लिए शिवसेना सांसदों का एक दल सक्रिय हो गया है. हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इन सांसदों ने एकनाथ शिंदे के बेटे श्रीकांत शिंदे के जरिए संपर्क साधा है. दावा है कि कई दौर की बातचीत हो चुकी है.

    एकनाथ शिंदे और बागी विधायक जहां गुवाहाटी में हैं, वहीं श्रीकांत शिंदे ने ठाणे में मोर्चा संभाल रखा है. सोमवार को उनकी अगुआई में शिंदे समर्थकों ने ठाणे के शिवसेना मुख्यालय पर शक्ति प्रदर्शन भी किया था. अब उन्हीं के जरिए शिवसेना के सांसद शिंदे के तीखे तेवरों को शांत करने की उम्मीद लगा रहे हैं. शिवसेना के इस वक्त लोकसभा में 19 और राज्यसभा में 3 सांसद हैं. श्रीकांत शिंदे खुद कल्याण से सांसद हैं. ऐसे में पार्टी के 5 सांसदों का एक दल श्रीकांत के जरिए एकनाथ शिंदे को मनाने की मुहिम में जुटा हुआ है. दावा है कि पार्टी को एकजुट रखने का हवाला देते हुए श्रीकांत शिंदे से कई दौर की बातचीत हो चुकी है.

    इस दल के एक सांसद के नाम जाहिर न करने की शर्त पर हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि हम तनाव को कम करने की कोशिश कर रहे हैं ताकि मुंबई और ठाणे की सड़कों पर शिवसैनिकों के बीच आपसी भिड़ंत न हो. अगर शिंदे समर्थक और उद्धव समर्थक शिवसैनिक आमने-सामने आते हैं, तो पुलिस कार्रवाई करेगी और नुकसान शिवसेना का ही होगा. शिवसेना में सुलह की कोशिशों में जुटे सांसदों के इस दल को उम्मीद है कि इस काम में एनसीपी प्रमुख शरद पवार मदद कर सकते हैं. वह इसके लिए 2019 का उदाहरण देते हैं, जब अजीत पवार ने बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस के साथ मिलकर शपथ ले ली थी, लेकिन शरद पवार के प्रयासों से अजित पवार को पार्टी में वापस लाया गया था.

    एक अन्य सांसद ने एचटी से कहा कि श्रीकांत हमारा दोस्त है. हम उससे बातचीत कर रहे हैं. हमारा मकसद उद्धव साहब के नेतृत्व में पार्टी को एकजुट रखना है. हम कोशिश कर रहे हैं कि श्रीकांत इसके लिए अपने पिता को मनाए. एक तीसरे सांसद ने कहा कि हमने पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से भी अनुरोध किया है कि वो बागी नेताओं के प्रति सख्ती न दिखाएं और सुलह पर जोर दें. शिवसेना सांसदों का दावा है कि उन्होंने गुवाहाटी में बागी विधायकों में से कुछ से अंदरखाने बातचीत शुरू की है, लेकिन वो भी मानते हैं कि बागियों को मनाना आसान नहीं है.

    Tags: Eknath Shinde, Maharashtra, Shiv sena, Uddhav thackeray

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर