महाराष्ट्र सरकार की नई पहल, अपने गांव को ‘कोरोना मुक्त’ बनाओ और जीतो 50 लाख

उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कुछ गांवों द्वारा किए प्रयासों की हाल ही में प्रशंसा की और ‘मेरा गांव कोरोना मुक्त’ पहल की घोषणा की थी. राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुशरिफ ने एक बयान में कहा कि ‘कोरोना मुक्त गांव’ प्रतियोगिता मुख्यमंत्री द्वारा घोषित की गई पहल का ही हिस्सा है.

  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र सरकार (Maharashra Government) ने ग्रामीण इलाकों में कोविड-19 को फैलने से रोकने के कदम उठाने के लिए प्रेरित करने के मकसद से बुधवार को ‘कोरोना मुक्त गांव’ प्रतियोगिता की घोषणा की. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कुछ गांवों द्वारा किए प्रयासों की हाल ही में प्रशंसा की और ‘मेरा गांव कोरोना मुक्त’ पहल की घोषणा की थी. राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुशरिफ ने एक बयान में कहा कि ‘कोरोना मुक्त गांव’ प्रतियोगिता मुख्यमंत्री द्वारा घोषित की गई पहल का ही हिस्सा है.

इस प्रतियोगिता के तहत प्रत्येक राजस्व मंडल में कोविड-19 से निपटने के लिए अच्छे काम करने वाली तीन गांव पंचायतों को इनाम दिए जाएंगे. मंत्री ने बताया कि प्रथम पुरस्कार के तहत 50 लाख रुपये दिए जाएंगे, दूसरे विजेता को 25 लाख और तीसरे विजेता को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि राज्य में छह राजस्व मंडल है इसलिए कुल 18 पुरस्कार होंगे. इनाम की कुल राशि 5.4 करोड़ रुपये हैं.

गांवों को 22 मानदंडों पर परखा जाएगा

मंत्री ने बताया कि प्रतियोगिता जीतने वाले गांवों को प्रोत्साहन के तौर पर इनामी राशि जितनी ही अतिरिक्त धनराशि दी जाएगी और इसका इस्तेमाल इन गांवों में विकास कार्यों के लिए किया जाएगा. उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में भाग लेने वाले गांवों को 22 मानदंडों पर परखा जाएगा. इसका फैसला करने के लिए एक समिति गठित की जाएगी.
सबसे युवा सरपंच ऋतुराज देशमुख की प्रशंसा

उद्धव ठाकरे ने रविवार को एक वर्चुअल संबोधन में महाराष्ट्र के सबसे युवा सरपंच ऋतुराज देशमुख (21) और उनके कार्यबल की सोलापुर जिले में अपने घाटणे गांव को कोरोना वायरस से मुक्त रखने के लिए तारीफ की थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज