Assembly Banner 2021

लड़कियों को जबरदस्ती नचाए जाने का मामला, महाराष्ट्र सरकार ने जांच के आदेश दिए

कुछ लड़कियों ने शिकायत की थी कि बाहर के लोगों और पुलिसकर्मियों को जांच के बहाने परिसर में प्रवेश की अनुमति दी गई. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

कुछ लड़कियों ने शिकायत की थी कि बाहर के लोगों और पुलिसकर्मियों को जांच के बहाने परिसर में प्रवेश की अनुमति दी गई. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

Jalgaon Girls Harassment: गृह मंत्री अनिल देखमुख (Anil Deshmukh) ने कहा, ‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. इसकी जांच करने के लिए अधिकारियों की चार सदस्यीय एक उच्च स्तरीय समिति बनाई गई है. उन्हें दो दिनों में एक रिपोर्ट देने को कहा गया है.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार (State Government) ने उस घटना की जांच के लिए चार सदस्यीय एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है, जिसमें जलगांव (Jalgaon) के एक छात्रावास में पुलिसकर्मियों द्वारा लड़कियों को कथित तौर पर निर्वस्त्र कर नाचने के लिए मजबूर किया गया. मंत्री ने विपक्षी सदस्यों द्वारा इस मुद्दे को उठाये जाने के बाद राज्य विधानसभा में यह घोषणा की.

भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) पर निशाना साधते हुए कहा कि वह इस मुद्दे पर गंभीर नहीं है. मीडिया में आई खबरों के अनुसार जलगांव में एक छात्रावास की कुछ लड़कियों ने शिकायत की थी कि बाहर के लोगों और पुलिसकर्मियों को जांच के बहाने परिसर में प्रवेश की अनुमति दी गई और कुछ लड़कियों से कपड़े उतरवा कर उनसे जबरदस्ती नृत्य कराया गया.

इस कथित घटना का एक वीडियो क्लिप भी सामने आया है. देखमुख ने कहा, ‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. इसकी जांच करने के लिए अधिकारियों की चार सदस्यीय एक उच्च स्तरीय समिति बनाई गई है. उन्हें दो दिनों में एक रिपोर्ट देने को कहा गया है. रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.’ मंत्री के यह घोषणा करने से पहले मुनगंटीवार ने कहा कि यह घटना बहुत गंभीर है.



यह भी पढ़ें: Exclusive: महाराष्ट्र के वाशिम में कोरोना सैंपल में लगा फफूंद, अस्पतालों में उड़ी नियमों की धज्जियां
उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार को न केवल इस तरह की घटना पर ध्यान देना चाहिए बल्कि कड़ी कार्रवाई भी करनी चाहिए. उन्हें जवाब देते हुए देशमुख ने कहा, ‘घटना के बारे में सारी जानकारी ली जा रही है. पूरी वीडियो रिकॉर्डिंग और अन्य दस्तावेज मांगे गए हैं और बयान दर्ज किए जा रहे हैं.’ इस पर आपत्ति जताते हुए मुनगंटीवार ने कहा कि पुलिस के पास घटना की पूरी जानकारी पहले से है.



भाजपा नेता ने कहा, ‘अगर पुलिस मशीनरी 15,000 करोड़ रुपये खर्च करने के बाद भी जानकारी नहीं ले रही है, तो फिर इस सरकार की जरूरत क्यों है?’ भाजपा नेता देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि (इस घटना की) वीडियो क्लिप है. उन्होंने कहा कि वीडियो क्लिप में दिखाई दे रहा है कि लड़की को निर्वस्त्र कर नाचने के लिए मजबूर किया गया जो एक गंभीर मामला है. विपक्ष के नेता ने कहा, ‘हमारी अपेक्षा है कि आप संवेदनशील तरीके से इस घटना पर तत्काल कार्रवाई करें.’

(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज