महाराष्ट्रः महिलाओं को मिलेगा बड़ा सुरक्षा कवच, अगले सत्र में दिशा विधेयक पारित कराएगी सरकार

अनिल देशमुख के हवाले से कहा गया है कि माताओं और बहनों के लिए एक बड़ा सुरक्षा कवच तैयार किया जा रहा है.
अनिल देशमुख के हवाले से कहा गया है कि माताओं और बहनों के लिए एक बड़ा सुरक्षा कवच तैयार किया जा रहा है.

Disha Bill: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के हवाले से कहा गया है, माताओं और बहनों के लिए एक बड़ा सुरक्षा कवच तैयार किया जा रहा है. इसके मसौदे को अंतिम रूप दे दिया गया है. माताओं, बहनों और विशेषज्ञों के अधिक सुझावों को इसमें शामिल किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2020, 10:36 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि राज्य सरकार महिलाओं को ‘‘बड़ा’’ सुरक्षा कवच प्रदान करने के लिए ‘‘दिशा विधेयक’’ को विधानमंडल के अगले सत्र में पारित कराएगी. एक आधिकारिक बयान में देशमुख के हवाले से कहा गया कि इस संबंध में मसौदे को अंतिम रूप दे दिया गया है और सरकार महिलाओं और मुद्दे पर विशेषज्ञों से और सुझावों को इसमें शामिल करेगी.

इसमें कहा गया है कि देशमुख ने यह टिप्पणी यहां मंगलवार को सह्याद्री गेस्ट हाउस में महिला नेताओं के साथ एक बैठक के दौरान कही. उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष सत्ता में आयी महा विकास अघाडी (एमवीए) सरकार ने महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों की सुनवायी में तेजी लाने के लिए आंध प्रदेश के ‘‘दिशा कानून’’ की तर्ज पर एक कानून लाने की पूर्व में बात की थी.

आंध प्रदेश सरकार ने गत वर्ष हैदराबाद में एक पशु चिकित्सक की बलात्कार और हत्या के बाद यौन उत्पीड़न मामलों की त्वरित जांच एवं सुनवायी सुनिश्चित करने के लिए ‘‘दिशा कानून’’ बनाया था. इस बैठक में गृह राज्य मंत्री सतेज पाटिल और शंभुराज देसाई, राकांपा सांसद सुप्रिया सुले, शिवसेना विधायक मनीषा कयांदे और अन्य शामिल थे. बयान में कहा गया कि राज्य विधान परिषद की उपसभापति नीलम गोरहे ने एक डिजिटल मंच के माध्यम से बैठक में भाग लिया.




बयान में देशमुख के हवाले से कहा गया है, ‘‘माताओं और बहनों के लिए एक बड़ा सुरक्षा कवच तैयार किया जा रहा है. इसके मसौदे को अंतिम रूप दे दिया गया है. माताओं, बहनों और विशेषज्ञों के अधिक सुझावों को इसमें शामिल किया जाएगा. सरकार विधानमंडल के अगले सत्र में ‘‘दिशा विधेयक’’ को पारित कराएगी.’’ (इनपुटः भाषा)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज