Home /News /nation /

महाराष्ट्र के राज्यपाल कोश्यारी और शरद पवार ने जसवंत सिंह को श्रद्धांजलि दी

महाराष्ट्र के राज्यपाल कोश्यारी और शरद पवार ने जसवंत सिंह को श्रद्धांजलि दी

राज्यपाल कोश्यारी और राकांपा के अध्यक्ष शरद पवार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया.

राज्यपाल कोश्यारी और राकांपा के अध्यक्ष शरद पवार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया.

राज्यपाल कोश्यारी (Governor Koshyari) ने कहा कि, जसवंत सिंह (Jaswant Singh) एक बड़े देशभक्त, मुखर वक्ता थे. उन्होंने वाजपेयी सरकार (Vajpayee Government) में रक्षामंत्री, विदेश मंत्री और वित्तमंत्री रहते हुए अमिट छाप छोड़ी.

    मुंबई. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के निधन पर रविवार को शोक व्यक्त किया. और देश के प्रति उनके योगदान की प्रशंसा की. उल्लेखनीय है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के करीबी सहयोगी जसवंत सिंह का लंबी बीमारी के बाद 82 साल की उम्र में रविवार को नई दिल्ली में निधन हो गया.

    कोश्यारी ने कहा कि, सिंह एक बड़े देशभक्त, मुखर वक्ता थे. उन्होंने वाजपेयी सरकार में रक्षामंत्री, विदेश मंत्री और वित्तमंत्री रहते हुए अमिट छाप छोड़ी. राज्यपाल ने एक बयान में कहा, ‘ उनके संसद के बाहर और भीतर दिए भाषणों और टिप्पणी का इंतजार रहता था. मुझे गर्व है कि जसवंत सिंह जी को करीब से जानने का मौका मिला. उनके निधन से भारत ने विश्वस्तरीय राजनयिक और नेता खो दिया.’





    पवार ने ट्विटर पर अपने संदेश में कहा कि, सिंह एक प्रमुख सांसद थे और उन्होंने विभिन्न पदों पर रहते हुए देश की सेवा की. जसवंत सिंह को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और भाजपा के दिग्गज नेता लाल कृष्ण आडवाणी का करीबी माना जाता था. उन्होंने वाजपेयी सरकार में रक्षा, वित्त और विदेश मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाली थी. भाजपा से टिकट नहीं मिलने पर वर्ष 2014 में बतौर निर्दलीय उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन हार गए थे.

    Tags: Governor, Jaswant singh, Maharashtra, Sharad pawar

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर