अपना शहर चुनें

States

COVID-19: महाराष्ट्र में कोरोना की बढ़ती मार, शाम 5 से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लगा सकती है सरकार

महाराष्‍ट्र में तेजी से फैल रहा है कोरोना वायरस. (Pic- AP)
महाराष्‍ट्र में तेजी से फैल रहा है कोरोना वायरस. (Pic- AP)

Coronavirus in Maharashtra: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. कई जिलों में आंशिक रूप से लॉकडाउन (Lockdown) लगा दिया गया है. नाइट कर्फ्यू को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अगले सप्ताह बैठक करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 10:53 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी को लेकर बड़ा फैसला ले सकती है. सरकार ने साफ कर दिया है कि अगर राज्य में मामले लगातार बढ़ते रहे, तो 12 घंटे का नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगाया जा सकता है. यह जानकारी मंत्री विजय वडेट्टीवार (Vijay Wadettiwar) ने शनिवार को दी है. उन्होंने बताया कि इस कर्फ्यू के दौरान शादी हॉल, बाजार, सिनेमा हॉल जैसी भीड़ वाली जगह पूरी तरह से बंद रहेंगी. सरकार शाम 5 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक पाबंदियों पर विचार कर रही है.

महाराष्ट्र में कोविड स्थिति बिगड़ी हुई है. नाइट कर्फ्यू को लेकर अगले हफ्ते राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के साथ बैठक होनी है. इसके बाद सरकार इस कर्फ्यू पर बड़ा फैसला ले सकती है. पाबंदियों के अलावा सरकार ने इस बार जुर्माने को लेकर भी कड़ी कार्रवाई करने का फैसला किया है. अगर कोई शादी हॉल कोविड नियमों का उल्लंघन कर 50 से ज्यादा लोगों को जुटने की अनुमति देता है, तो उसके ऊपर 1 लाख रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा.

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने विजय वडेट्टीवार के हवाले से बताया 'पूरे विदर्भ क्षेत्र में मामले बढ़ रहे हैं. नागपुर में भी शुक्रवार को 750 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए.' उन्होंने बताया कि सरकार ने पहले ही अमरावती, वर्धा और यवतमाल में आंशिक लॉकडाउन की घोषणा कर दी है. वडेट्टीवार ने कहा 'अगर नए मामले बढ़ते हैं, तो सरकार नाइट कर्फ्यू जैसा बढ़ा कदम उठा सकती है. हम कलेक्टर और म्युनिसिपल कमिश्नर समेत जिला प्रशासन से उनके इलाकों में हालात को देखते हुए लॉकडाउन पर अंतिम फैसला लेने के लिए कहेंगे.'



यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र के बाद पंजाब में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, 5 राज्यों ने बढ़ाई सरकार की टेंशन
मंत्री ने कहा 'ज्यादातर लोग लापरवाह हो गए हैं और सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने जैसे कोविड-19 नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं. इस वजह से मामले बढ़ रहे हैं.' उन्होंने सब्जी बाजार को लेकर कहा कि हम ऐसी जगहों को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक पाबंदियों के साथ खोलने पर विचार कर रहे हैं.

हालांकि, स्वास्थ्य जानकारों ने सरकार के इस फैसले का विरोध किया है. कोविड नियंत्रण को लेकर राज्य सरकार के सलाहकार डॉक्टर सुभाष सालुंके ने कहा कि मामले कुछ ही इलाकों में बढ़ रहे हैं, हर इलाका प्रभावित नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज