Home /News /nation /

maharashtra political crisis uddhav thackeray tried to show his strength in returning home

Maharashtra political crisis: उद्धव ठाकरे ने घर वापसी में की ताकत दिखाने की कोशिश

उद्धव ठाकरे ने घर वापसी में की ताकत दिखाने की कोशिश

उद्धव ठाकरे ने घर वापसी में की ताकत दिखाने की कोशिश

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बुधवार रात को एक भावनात्मक भाषण देने के बाद मुख्यमंत्री आवास को छोड़ने का फैसला करके अपनी ताकत दिखाने की कोशिश की.

मुंबई. जब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मालाबार हिल्स स्थित मुख्यमंत्री के आधिकारिक निवास ‘वर्षा’ से बांद्रा में अपने घर ‘मातोश्री’ के लिए निकले तो मुंबई की बारिश में सैकड़ों शिवसैनिक उनके समर्थन में सड़कों पर खड़े थे. एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में विधायकों के विद्रोह के बाद जबकि शिवसेना एक और विभाजन का सामना करने जा रही है, ऐसे में कार्यकर्ताओं का समर्थन उद्धव ठाकरे के लिए एक संबल का काम कर सकता है.

द इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक इस यात्रा में आमतौर पर लगभग 15-20 मिनट लगते हैं, लेकिन बुधवार की रात एक भावनात्मक भाषण देने के बाद मुख्यमंत्री और उनके दल को इस दूरी को पूरा करने में करीब एक घंटे का समय लगा. ठाकरे ने मातोश्री लौटने के दौरान कई जगह पार्टी कार्यकर्ताओं का अभिवादन किया. इस दौरान पूरा माहौल भावनात्मक हो गया. उद्धव ठाकरे के समर्थन में सड़क पर खड़ी पार्टी की कई महिला कार्यकर्ता तो रोने लगीं. फिर भी उनमें से ज्यादातर का मानना था कि शिवसेना इस चुनौती से भी लड़कर उबर जाएगी.

कोविड पॉजिटिव पाए गए उद्धव ठाकरे ने अपनी कार में अकेले यात्रा की. ठाकरे ने अपने समर्थकों का हाथ हिलाकर और मुट्ठी बांधकर अभिवादन किया. उनके बेटे आदित्य ठाकरे जो राज्य मंत्री हैं, उन्होंने भी समर्थकों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया. ठाकरे परिवार की ये पूरी यात्रा एक तरह से आम शिवसैनिक को ये संदेश देने का प्रयास था कि उनके नेता अपने सिद्धांतों से कोई समझौता नहीं करेंगे. चाहे सरकार भले ही चली जाए.

30 साल पहले बाल ठाकरे ने भी की थी इस्तीफे की पेशकश, क्या इस बार उद्धव ठाकरे की बात मानेंगे शिव सैनिक?

वैसे भी शिवसेना के आम कार्यकर्ताओं का ज्यादातर समर्थन उद्धव ठाकरे के साथ ही है. ज्यादातर कार्यकर्ताओं का कहना है कि सीएम ठाकरे जो भी फैसला लेंगे वे सब उसके साथ हैं. पार्टी के लिए ये कठिन समय है. पार्टी ने ऐसी कई चुनौतियां देखी हैं. शिवसेना के लोगों का कहना है कि पार्टी ने लोगों से सड़कों पर आने के लिए नहीं कहा था. उद्धव ठाकरे के सीएम आवास को खाली करने की खबर फैलने के बाद लोग अपने आप इकट्ठा हो गए.

Tags: CM Uddhav Thackeray, Maharashtra, Shiv sena

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर