कोरोना के फिर रिकॉर्ड केस, महाराष्ट्र 67 हजार तो UP 33 हजार पार, हाल-बेहाल

एक्सपर्ट्स ने मास्क को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सबसे कारगर हथियार माना है. (तस्वीर-AP)

एक्सपर्ट्स ने मास्क को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सबसे कारगर हथियार माना है. (तस्वीर-AP)

महाराष्ट्र (Maharashtra) में 67468 नए मामले सामने आए हैं. कुल 568 लोगों ने महामारी से जान गंवाई है. एक्टिव केस की संख्या 695747 हो चुकी है. यूपी (Uttar Pradesh) में 24 घंटे के भीतर 33,214 मामले सामने आए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 9:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना की दूसरी लहर (Coronavirus Second Wave) में बुधवार को भारत में एक बार फिर रिकॉर्ड केस दर्ज किए गए हैं. एक बार फिर सबसे ज्यादा मरीज सर्वाधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र से सामने आए हैं. बुधवार को राज्य में 67468 नए मामले सामने आए हैं. कुल 568 लोगों ने महामारी से जान गंवाई है. एक्टिव केस की संख्या 695747 हो चुकी है.

महाराष्ट्र के बाद उत्तर प्रदेश में भी नए मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई है. राज्य में 24 घंटे के भीतर 33,214 मामले सामने आए हैं. लखनऊ की बात की जाए तो वहां पर ही करीब 5902 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. वहीं 14198 लोग इस संक्रमण से जंग जीत अस्पताल से डिस्चार्ज भी हो गए हैं. इससे एक ही दिन पहले प्रदेश में 29,754 कोरोना के मामले सामने आए थे. जिसके बाद यहां एक्टिव केसों की संख्या 2 लाख 23 हजार 544 तक पहुंच गई थी. प्रदेश में कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सरकार के हरसंभव प्रयास के बावजूद संक्रमण फैलता जा रहा है.

सर्वाधिक प्रभावित राज्य

अगर कुल कोरोना मामलों में हिस्सेदारी के लिहाज से देखें तो देश में 10 राज्य ज्यादा प्रभावित हैं. वर्तमान में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक और केरल में सबसे ज्यादा केस सामने आते दिख रहे हैं. तकरीबन एक महीने पहले तक महाराष्ट्र ही मुख्य रूप से कोरोना से प्रभावित था लेकिन अब ये कई राज्यों को बुरी गिरफ्त में ले चुका है.
महामारी की दूसरी लहर मई महीने के आखिरी तक टिक सकती है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संबोधन में कोरोना की नई लहर को तूफान कहा है. भारत इस वक्त दुनिया में कोरोना से प्रभावित देशों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर पहुंच चुका है. वायरोलॉजिस्ट डॉ. शाहिद जमील कह चुके हैं कि महामारी की दूसरी लहर मई महीने के आखिरी तक टिक सकती है. डॉ. जमील ने न्यूज़18 से बातचीत में कहा था, 'नए मामलों की संख्या में जिस रफ्तार से बढ़ोतरी हो रही है वह वाकई में डराने वाली है. अगर आप एक्टिव केस ग्रोथ की तरफ देखें तो ये तकरीबन हर दिन 7 प्रतिशत से बढ़ रही है. ये प्रतिशत बहुत ज्यादा है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज