सख्त प्रतिबंधों के लिए बाध्य हुआ महाराष्ट्र, फिर भी चलती रहेंगी ये सेवाएं, देखें लिस्ट

महाराष्ट्र में कल रात 8 बजे से सख्त प्रतिबंधों की शुरुआत हो जाएगी. (तस्वीर-AP)

महाराष्ट्र में कल रात 8 बजे से सख्त प्रतिबंधों की शुरुआत हो जाएगी. (तस्वीर-AP)

उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने महामारी (Pandemic) को मात देने के लिए बुधवार रात से 'ब्रेक द चेन' मुहिम का ऐलान किया है. जिसके तहत राज्‍य में 15 दिनों का सख्‍त कर्फ्यू रहेगा. इस दौरान मुख्‍यमंत्री ने राज्‍य की जनता से अपील करते हुए कहा कि केवल जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकलें. 14 अप्रैल से 15 दिन के लिए रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक धारा 144 लागू रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 10:23 PM IST
  • Share this:
मुंबई. देश में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र (Maharashtra) अब महामारी की दूसरी लहर को रोकने के लिए लॉकडाउन जैसे प्रतिबंध (Lockdown Like Restrictions) लगाने जा रहा है. मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को राज्‍य की जनता को संबोधित किया. उद्धव ठाकरे ने महामारी को मात देने के लिए बुधवार रात से 'ब्रेक द चेन' मुहिम का ऐलान किया है. जिसके तहत राज्‍य में 15 दिनों का सख्‍त कर्फ्यू रहेगा. इस दौरान मुख्‍यमंत्री ने राज्‍य की जनता से अपील करते हुए कहा कि केवल जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकलें. 14 अप्रैल से 15 दिन के लिए रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक धारा 144 लागू रहेगी.

ये निर्णय लेने से पहले सीएम उद्धव ने सर्वदलीय बैठक के अलावा कोविड टास्क फोर्स से भी बातचीत की है. बेकाबू होते हालात में महामारी की चेन तोड़ने के लिए ये कदम उठाया जाना बेहद आवश्यक था लेकिन इस दौरान भी कई ऐसी सेवाएं हैं जो रोकी नहीं जाएंगी. आइए जानते हैं कि वो सेवाएं कौन सी हैं....

1-अलग-अलग देशों के दूतावास खुले रहेंगे. मानसून के पहले जो तैयारियां की जानी चाहिए उसके लिए जो काम होने है वह सारी चीजें खुली रहेंगी और पब्लिक सेबी से रजिस्टर्ड वित्तीय संस्थाएं खुली रहेंगी.

2-टेलीकॉम सेवा से जुड़े और उनकी मरम्मत करने वाली चीजें और उससे जुड़े लोगों के लिए सेवा चालू रहेंगी. सामान और पानी की सप्लाई के लिए ट्रांसपोर्ट खुले रहेंगे.
3- एक्सपोर्ट-इंपोर्ट कृषि और उससे जुड़े संसाधन के लिए जो भी सामान लगते हैं, उससे जुड़ी सारी गतिविधियां शुरू रहेंगी. एक्सपोर्ट और इंपोर्ट दोनों शुरू रहेगा.

4- पत्रकारों को भी इसमें छूट रहेगी. पेट्रोल पंप और पेट्रोलियम से जुड़े प्रोडक्ट समुद्र के भीतर या समुद्र के बाहर जो भी सेवाएं हैं वह सारी शुरू रहेंगी. सभी एयरपोर्ट कार्गो सेवा शुरू रहेगी.

5-आईटी से जुड़े ऑफिस से और डेटासेंटर्स खुले रहेंगे. सरकारी और प्राइवेट सभी सिक्योरिटी सेवा शुरू रहेंगी. बिजली और गैस से जुड़ी सेवाएं चालू रहेंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज