भीमा-कोरेगांव हिंसा : मुख्य आरोपी मिलिंद एकबोटे गिरफ्तार

एकबोटे पर दंगा भड़काने, जानलेवा हमला करने और धारा 144 का उल्‍लंघन करने का मामला दर्ज है.

News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 10:25 PM IST
भीमा-कोरेगांव हिंसा : मुख्य आरोपी मिलिंद एकबोटे गिरफ्तार
भीका कोरेगांव हिंसा - फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 10:25 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने भीमा-कोरेगांव हिंसा के आरोपी मिलिंद एकबोटे की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है. मिलिंद एकबोटे की याचिका खारिज होने के साथ ही उनको पुणे ग्रामीण पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बुधवार को ही एकबोटे को पुणे की स्‍थानीय कोर्ट में पेश कर किया गया. एकबोटे पर दंगा भड़काने, जानलेवा हमला करने और धारा 144 का उल्‍लंघन करने का मामला दर्ज है.

विपक्ष सवाल उठा रहा है कि सरकार इस मामले में आरोपियो को गिरफ्तार करने में इतनी देरी क्यों कर रही है और अब तक केवल मिलिंद एकबोटे को गिरफ्तार किया जबकि भिड़े गुरुजी अब भी बाहर हैं.

एक दिन पहले सरकार ने इस मामले से जुड़े क्रिमिनल केस को हटाने का फैसला लिया, लेकिन गंभारता से डी जी लेवल की स्क्रूटनी कमेटी गठित की गई. अब बीजेपी विपक्ष के दावे को झूठा करार कर रही है और अपराधियो पर कारवाई की बात कर रही है. मिलिंद के गिरफ्तारी के बाद अब भिडे गुरुजी पर गिरफ्तारी की तलवार लटकी है.

इससे पहले महाराष्ट्र के किसान आंदोलन के तुरंत बात फडणवीस सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. इस मामले में दर्ज सभी दोषियों पर लगे मुकदमें हटा दिए जाएंगे. भीमा-कोरेगांव की लड़ाई में ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना ने पेशवा की सेना को हराया था. दलित नेता इस ब्रिटिश जीत का जश्न मनाते हैं. ऐसा समझा जाता है कि तब अछूत समझे जाने वाले महार समुदाय के सैनिक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना की ओर से लड़े थे. हालांकि, पुणे में कुछ दक्षिणपंथी समूहों ने इस 'ब्रिटिश जीत' का जश्न मनाए जाने का विरोध किया था.

2018 की शुरुआत में हुई इस हिंसा ने पूरे महाराष्ट्र में तनाव बढ़ा दिया था. कई गाड़ियां जला दी गईं थीं. जिग्नेश मेवाणी पर केस दर्ज हुआ था. इसके बाद महाराष्ट्र की इस जातीय घटना ने काफी तूल पकड़ा था. तब माना जा रहा था कि 2019 के चुनावों में बीजेपी के वोट बैंक में इससे सेंध लग सकती है. इसके बाद महाराष्ट्र में किसानों की रैली ने आदिवासियों और दूसरे वर्गों को सरकार के सामने ला दिया.

ये भी पढ़ें:

शहरों में सबसे बेहतर पुणे की व्यवस्था, बेंगलुरु की हालत खराब
Loading...

महाराष्ट्र: ट्रक पलटने से 5 छात्रों की मौत 26 घायल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर