अपना शहर चुनें

States

नए संसद भवन के निर्माण कार्य के चलते अस्‍थाई तौर पर हटाई गई गांधी जी की प्रतिमा

अस्‍थाई तौर पर हटाई गई गांधी जी की प्रतिमा. (Pic-ANI)
अस्‍थाई तौर पर हटाई गई गांधी जी की प्रतिमा. (Pic-ANI)

New Parliament House: राज्‍य सभा सचिवालय के एक अफसर ने जानकारी दी है कि गांधी जी की इस प्रतिमा को मंगलवार को अस्‍थाई तौर पर शिफ्ट किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 21, 2021, 11:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. नए संसद भवन (New Parliament Building) का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है. इसके चलते संसद के गेट नंबर 1 पर स्थित महात्‍मा गांधी (Mahatma Gandhi) की प्रतिमा को अस्‍थाई तौर पर हटाकर गेट नंबर 3 के पास शिफ्ट कर दिया गया है. 16 फीट ऊंची पीतल की इस प्रतिमा को राम सुतार ने तैयार किया था. इसका उद्घाटन 1993 में तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति डॉ. शंकर दयाल शर्मा ने किया था. जानकारी दी गई है कि जब नए संसद भवन का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा तो इस प्रतिमा को फिर से स्‍थान पर शिफ्ट कर दिया जाएगा.

राज्‍य सभा सचिवालय के एक अफसर ने जानकारी दी है कि गांधी जी की इस प्रतिमा को मंगलवार को अस्‍थाई तौर पर शिफ्ट किया गया है. इस प्रतिमा को राम सुतार ने तैयार किया था. उन्‍होंने ही सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी को भी डिजाइन किया है.

राम सूतर के बेटे अनिल सुतार ने जानकारी दी है कि 1984 के आसपास बैठे हुए गांधी जी की प्रतिमा बनाने के लिए केंद्र सरकार के लोक निर्माण विभाग की ओर से प्रतियोगिता आयोजित की गई थी. मौजूदा समय में संसद भवन में करीब 16 प्रतिमाएं हैं. इनमें से अधिकांश को राम सुतार ने ही बनाया है.

इंडियन एक्‍सप्रेस को अनिल सुतार ने बताया, 'जैसे ही लोग गांधी जी की प्रतिमा देखते हैं, हम लोगों को और अधिक प्रतिमा बनाने के ऑर्डर मिलने लगते हैं. मेरे पिता ने संसद भवन में मौजूद कई ऐतिहासिक प्रतिमाएं बनाई हैं. इनमें सरदार पटेल, भगत सिंह, छत्रपति शिवाजी महाराज, रणजीत सिंह, इंदिरा गांधी, जवाहरलाल नेहरू समेत अन्‍य लोगों की प्रतिमाएं शामिल हैं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज