प. बंगाल में दुर्गा पंडालों पर मेहरबान ममता सरकार, ऐसे बंटेगे 28 करोड़ रुपये

कोलकाता में 3 हजार पंडालों के साथ राज्य भर में सजते हैं 28 हजार पंडाल, कोआर्डिनेशन बैठक में मुख्यमंत्री ने की घोषणाएं

News18Hindi
Updated: September 11, 2018, 6:30 PM IST
प. बंगाल में दुर्गा पंडालों पर मेहरबान ममता सरकार, ऐसे बंटेगे 28 करोड़ रुपये
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: September 11, 2018, 6:30 PM IST
अनन्या चक्रवर्ती

एक ओर तो बंगाल सरकार खर्च के बोझ से परेशान है, तो दूसरी ओर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुर्गा-पूजा आयोजित करने वाले पंडालों को 28 करोड़ रुपये बतौर भेंट देने की घोषणा की है. इसके साथ ही उन्होंने पूजा पंडालों को सरकार की ओर से तमाम सुविधाएं देने की भी घोषणा की है.

ये भी पढें : ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा के लिए लिखा गीत, सांस्कृतिक मंत्री देंगे आवाज़

मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य सरकार की ओर से पश्चिम बंगाल में 28 हजार पूजा पंडालों में से सभी को 10-10 हजार रुपये दिए जाएंगे. इस पर आने वाला खर्च राज्य सरकार के विभिन्न विभाग उठाएंगे. इनमें पर्यटन और उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय शामिल है.

अकेले कोलकाता में ही 3 हजार पूजा पंडाल है. बाकी राज्य भर में 25 हजार पूजा पंडालों को मिला कर कुल 28 हजार पंडाल होते हैं. इस सभी को राज्य सरकार की तरफ से 10 हजार रुपये का उपहार दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें : किसी को लोगों के हितों के विरुद्ध काम नहीं करने दूंगी: ममता बनर्जी

दुर्गा पूजा आयोजन संयोजक समिति की बैठक में मुख्यमंत्री ने सोमवार को कहा-“कोलकाता नगर निगम, राज्य आपदा और फायर सर्विसेज विभाग हर दूर्गापूजा पंडाल को 10-10 हजार रुपये देंगे. इसके अलावा जिलों में उपभोक्ता मामलों का मंत्रालय, पर्यटन विभाग और स्वयं सहायता मामलों का मंत्रालय पश्चिम बंगाल पुलिस के साथ मिलकर हर पूजा पंडाल को 10 हजार रुपये की राशि देगी.”
Loading...
ये भी पढें : ममता बनर्जी बोलीं- कांग्रेस के साथ काम करने के खिलाफ नहीं, राहुल गांधी काफी जूनियर

उन्होंने इसकी भी घोषणा की कि सामुदायिक पूजा पंडालों को लाइसेंस लेने के लिए फायर डिपार्टमेंट को कोई शुल्क नहीं देना होगा. साथ ही पूजा पंडालों को कोलकाता विद्युत आपूर्ति निगम की ओर से 23 फीसदी की रियाती दर पर बिजली दी जाएगी.  पूजा आयोजकों के साथ ममता ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस इनडोर स्टेडियम में बैठक की थी. बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे.

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर