लाइव टीवी

ममता बनर्जी ने BJP को बताया, ‘दुशासनों’ की पार्टी, बोलीं-वे तुगलक के वंशज

भाषा
Updated: February 4, 2020, 6:51 PM IST
ममता बनर्जी ने BJP को बताया, ‘दुशासनों’ की पार्टी, बोलीं-वे तुगलक के वंशज
ममता बनर्जी लगातार सीएए, एनआरसी और एनपीआर पर सरकार का विरोध कर रही हैं. फाइल फोटो.पीटीआई

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बीजेपी पर एनआरसी (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी/एनपीआर (NPR) लागू करने की कोशिश का आरोप लगाते हुए तृणमूल कांग्रेस (Trinmool Congress) प्रमुख ने कहा कि वह इसे ‘किसी भी तरह’ से रोकेंगी.

  • Share this:
राणाघाट. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने ‘महाभारत’ और भारत के इतिहास के जरिए अपनी प्रतिद्वंद्वी बीजेपी (BJP) पर मंगलवार को ज़ोरदार हमला बोला और देश बचाने के लिए लोगों से साथ आने की गुजारिश की. ममता बनर्जी ने बीजेपी को ‘दुशासनों की पार्टी’ और ‘मोहम्मद बिन तुगलक का वंशज’ कहा. ‘महाभारत’ में दुर्योधन का भाई दुशासन था, जबकि मोहम्मद बिन तुगलक 1325-1351 तक दिल्ली का सुल्तान था. उसे इतिहास में अटपटे फैसलों के लिए जाना जाता है.

भाजपा पर देश में जबरन राष्ट्रीय नागरिक पंजी/एनआरसी (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी/एनपीआर (NPR) लागू करने की कोशिश का आरोप लगाते हुए तृणमूल कांग्रेस (Trinmool Congress) प्रमुख ने कहा कि वह इसे ‘किसी भी तरह’ से रोकेंगी. नादिया जिले के रणाघाट में एक जनसभा में बनर्जी ने कहा, “एनपीआर, एनआरसी और सीएए काले जादू की तरह हैं. उन्होंने देश बचाने के लिए लोगों से साथ आने की गुजारिश की.''

ममता का दावा-दहशत से 30 लोगों की मौत
मुख्यमंत्री ने कहा, “हम (TMC) बीजेपी की तरह दुशासनों की पार्टी नहीं है. वे मोहम्मद बिन तुगलक के वंशज हैं और लोगों को उनसे देश बचाने के लिए साथ आना चाहिए.” देशव्यापी एनआरसी को लेकर अपना विरोध जारी रखते हुए बनर्जी ने हैरानी से पूछा कि क्या केंद्र की भाजपा सरकार उन्हें देश से बाहर फेंक देगी, क्योंकि उनके पास उनकी मां का जन्म प्रमाण पत्र नहीं है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके आश्वासन के बावजूद प्रस्तावित एनआरसी की दहशत से राज्य में अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

ममता बनर्जी ने रैली को संबोधित करते हुए एनपीआर के मुद्दे पर कहा, ''आपसे अगर कोई डॉक्यूमेंट मांगा जाए तो उन्हें कोई भी डॉक्यूमेंट दिखाने की जरूरत नहीं है. अगर वह आपसे आपके परिवार और आधार के बारे में जानकारी मांगें तो उन्हें कोई भी जानकारी नहीं देना. ये जानकारी आप तक न दें, जब तक कि मैं आपसे डायरेक्ट न कहूं.''

यह भी पढ़ें :-

NPR पर गृह मंत्रालय का बड़ा बयान- किसी से नहीं मांगे जाएंगे दस्तावेज

AAP का मैनिफेस्टो: 10 लाख बुजुर्गों को तीर्थयात्रा, स्कूल में देशभक्ति का पाठ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 6:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर