अपना शहर चुनें

States

West Bengal Election 2021: अब घर-घर पहुंचेगी ममता सरकार, लॉन्च हुई द्वारे सरकार स्कीम

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (PTI)
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (PTI)

ममता सरकार (Mamata Banerjee Government) की द्वारे सरकार योजना (The Duare Sarkar scheme) के तहत राज्य सरकार की कई स्कीम्स को शामिल किया गया है. जिसके तहत राशन कार्ड, उससे जुड़े बदलाव को घर बैठे पूरा किया जा सकेगा. आदिवासी, तापिस समुदाय के बच्चों को 800 रुपये सालाना की स्कॉलरशिप मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2020, 12:58 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections 2021) होने हैं. इससे पहले ममता बनर्जी सरकार (Mamata Banerjee Government) ने एक बड़ी योजना लागू की है. द्वारे सरकार स्कीम (The Duare Sarkar scheme) के जरिए बंगाल सरकार हर घर तक पहुंचने की कोशिश करेगी. इस स्कीम में पंचायत, वार्ड लेवल पर फोकस किया गया है. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राज्य में बीजेपी जोर लगा रही है. ऐसे में बीजेपी की रणनीति को काउंटर करने के लिए इस योजना को अहम माना जा रहा है.

ममता सरकार की द्वारे सरकार योजना के तहत राज्य सरकार की कई स्कीम्स को शामिल किया गया है. जिसके तहत राशन कार्ड, उससे जुड़े बदलाव को घर बैठे पूरा किया जा सकेगा. आदिवासी, तापिस समुदाय के बच्चों को 800 रुपये सालाना की स्कॉलरशिप मिलेगी.

सुवेंदु अधिकारी के जाने से बंगाल में ममता को होगा कितना नुकसान, आंकड़ों से समझें पूरी कहानी



बंगाल के चीफ सेक्रेटरी अल्पान बंदोपाध्याय ने इसके बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा, 'जो भी SOP बताए गए हैं उनका पालन करें. अपने कागजात को साझा करें. इस योजना के तहत अब लोगों को घर बैठे ही SC/ST/OBC/Tribal जाति से जुड़े सर्टिफिकेट मिल जाएंगे.'
आदिवासी समुदाय को आर्थिक मदद
इस स्कीम में आदिवासी समुदाय के लिए आर्थिक मदद का भी प्रावधान है. 60 साल से अधिक उम्र वाले लोग जिनके पास कमाई का कोई साधन नहीं है. बंगाल सरकार उन्हें घर बैठे 1000 रुपये प्रति महीना देगी. सरकार की ओर से जल्द ही इसकी प्रक्रिया को समझा दिया जाएगा. मोबाइल फोन के जरिए लोग वार्ड लेवल तक में इसका इस्तेमाल कर सकेंगे.

BJP सांसद का दावा- TMC के 62 विधायक हमारे संपर्क में, 15 दिसंबर तक गिर जाएगी ममता सरकार

इस मौके पर टीएमसी ने कहा कि हमारी नेत्री व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का आदर्श व सिद्धांत शुरू से ही मां-माटी-मानुष की सेवा करना रहा है. उनके इस मनवोन्मुखी आदर्श की राहों पर हम सब उनके सिपाही भी सदैव चलते रहने को समर्पित हैं. कहीं भी किसी भी आम आदमी को कोई समस्या न हो इसका पूरा-पूरा खयाल पहले भी रखा गया, अब भी रखा जा रहा है और आगे भी रखा जाएगा. शांति-सद्भाव और विकास के द्वारा मां-माटी-मानुष की सेवा ही हमारा परम कर्तव्य है, परम धर्म है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज