लाइव टीवी

पश्चिम बंगाल: प्रशांत किशोर को 'Z' श्रेणी सुरक्षा देंगी ममता बनर्जी

SUJEET KUMAR PATEL | News18Hindi
Updated: February 17, 2020, 11:59 PM IST
पश्चिम बंगाल: प्रशांत किशोर को 'Z' श्रेणी सुरक्षा देंगी ममता बनर्जी
प्रशांत किशोर को ममता बनर्जी देंगी 'जेड' सुरक्षा.

राज्‍य सचिवालय के सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि पहले ही प्रशांत किशोर (PK) को 'जेड' श्रेणी सुरक्षा मुहैया कराने के लिए पश्चिम बंगाल (West Bengal) गृह विभाग की आधिकारिक औपचारिकता पूरी हो चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2020, 11:59 PM IST
  • Share this:
(सुजित नाथ)

कोलकाता. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (PK) को पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने 'जेड' श्रेणी सुरक्षा देने का फैसला लिया है. ममता बनर्जी ने पिछले साल ही प्रशांत किशोर को अपने चुनाव की जिम्‍मेदारी सौंपी है. राज्‍य सचिवालय के सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि पहले ही प्रशांत किशोर को 'जेड' श्रेणी सुरक्षा मुहैया कराने के लिए पश्चिम बंगाल गृह विभाग की आधिकारिक औपचारिकता पूरी हो चुकी है.

बीजेपी ने बंगाल में 18 सीटों पर जीत हासिल की थी
ममता बनर्जी की तरह प्रशांत किशोर भी नागरिकता कानून (सीएए) और राष्‍ट्रीय जनसंख्‍या रजिस्‍टर (एनपीआर) के कड़े आलोचक रहे हैं. पिछले लोकसभा चुनाव का परिणाम आने के एक महीने बाद ही ममता बनर्जी ने पार्टी को वापस सत्‍ता में लाने के लिए राजनीतिक रणनीतिकार पीके को चुना था. आम चुनाव में बीजेपी को बंगाल में बढ़ हासिल हुई थी. राज्‍य की 42 लोकसभा सीटों में से बीजेपी ने 18 सीटें हासिल की थी. जबकि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में यहां पर बीजेपी को केवल 2 सीटों हासिल हुई थी. इसके बाद बीजेपी ने 7 नगर पालिकाओं में भी जीत हासिल की थी. राज्‍य में बीजेपी का जनाधार बढ़ रहा था.



प्रशांत किशोर ने ऐसे जीता था TMC का विश्‍वास
प्रशांत किशोर को जिम्‍मेदारी सौंपने के 54 दिन बाद 29 जुलाई को राज्‍य में 'दीदी के बोलो' कैंपेन की शुरूआत की गई. हालांकि अगले छह महीने में इसका असर भी दिखाई दिया. टीएमसी उन सात नगर पालिकाओं को दोबारा हासिल करने में कामयाब रही, जो बीजेपी के कब्‍जे में आ गई थी. इसके बाद टीएमसी के जमीनी स्‍तर के नेताओं का दोबारा जीत में भरोसा कायम हुआ.



प्रशांत किशोर को क्‍यों दी जा रही सुरक्षा: माकपा
अब प्रशांत किशोर को जेड श्रेणी सुरक्षा दिए जाने का विरोध भी शुरू हो गया है. माकपा विधायक दल के नेता सुजन चक्रवर्ती ने राज्‍य सरकार से पूछा कि पश्चिम बंगाल से कोई संबंध न होने के बावजूद प्रशांत किशोर को 'जेड' श्रेणी सुरक्षा क्‍यों दी जा रही है.

जेडीयू ने अभी पिछले महीने ही प्रशांत किशोर को पार्टी से निष्‍कासित किया है. इससे पहले प्रशांत पार्टी में उपाध्‍यक्ष के पद पर थे. जेडीयू ने उस समय कहा था कि हाल के दिनों में प्रशांत के आचरण ने यह स्‍पष्‍ट कर दिया था कि वह पार्टी के अनुशासन का पालन नहीं करना चाहते.

ये भी पढ़ें: JDU का दामन छोड़ने के बाद TMC का हाथ थाम सकते हैं प्रशांत किशोर

ये भी पढ़ें: कोलकाता में पानी के अंदर दौड़ेगी मेट्रो, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने किया उद्घाटन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 11:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर