ममता बनर्जी ने किया अमित शाह के हमले से बचाव, बोलीं- 'मैंने कभी नहीं कहा कोरोना एक्सप्रेस'

ममता बनर्जी ने किया अमित शाह के हमले से बचाव, बोलीं- 'मैंने कभी नहीं कहा कोरोना एक्सप्रेस'
ममता बनर्जी ने अमित शाह के हमले से अपना बचाव किया है (सांकेतिक फोटो, PTI)

अमित शाह (Amit Shah) ने कहा था कि प्रवासी मजदूरों (Migrant Labourers) के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Shramik Special Trains) को निशाना बनाकर ऐसे बयान देना राजनीतिक पतन को दिखाता है.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने आखिरकार "कोरोना एक्सप्रेस" टिप्पणी पर अपनी चुप्पी तोड़ दी है. दो दिन पहले अपनी वर्चुअल रैली (Virtually Rally) के दौरान BJP नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा था कि ममता बनर्जी के बंगाल जाने वाले प्रवासी मजदूरों की श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Shramik Special Train) के लिये यह टिप्पणी की थी.

शाह ने कहा था कि प्रवासी मजदूरों (Migrant Labourers) के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Shramik Special Trains) को निशाना बनाकर ऐसे बयान देना राजनीतिक पतन को दिखाता है. आज, मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) के आरोपों का प्रत्युत्तर दिया. बनर्जी ने कहा, "मैंने कोरोना एक्सप्रेस (Corona Express) को कभी नहीं कहा. मैंने कहा कि जनता कह रही है. आप मेरा मूल बयान देख सकते हैं."

शाह ने कहा था कि प्रवासी श्रमिक 2021 के विधानसभा चुनावों में सरकार की रवानगी तय करेंगे
अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के लिए एक डिजिटल रैली (Digital Rally) को संबोधित करते हुए कल आरोप लगाया था कि बनर्जी ने श्रमिक विशेष ट्रेनों को ‘कोरोना एक्सप्रेस’ कहकर इन ट्रेनों के जरिये राज्य लौटने वाले प्रवासी श्रमिकों का ‘‘अपमान’’ किया है.
शाह ने कहा था कि प्रवासी श्रमिक 2021 के विधानसभा चुनावों (Assembly Elections) में उनकी सरकार की ‘‘रवानगी’’ सुनिश्चित करेंगे.



मैंने कभी नहीं कहा ‘कोरोना एक्सप्रेस’, आम लोगों ने दिया यह नाम: ममता
बनर्जी ने पत्रकारों से कहा, ‘‘11 लाख से अधिक प्रवासी बंगाल लौटे हैं. मैंने कभी भी प्रवासी विशेष ट्रेनों को ‘कोरोना एक्सप्रेस’ (Corona Express) नहीं कहा. यह आम लोग थे जिन्होंने इन ट्रेनों को यह नाम दिया.’’

आज फेसबुक (Facebook) पर लाइव संबोधन के दौरान बनर्जी ने कहा कि प्रवासी ट्रेनों को शुरू में रोकने का कारण "गलत समझा" गया था. उन्होंने कहा, "ट्रेन सेवाओं को एक कारण से बंद रखा गया है ताकि लोग कोरोना संक्रमण फैलने के कारण एक छोटी सी जगह में न बन्द हों." उन्होंने विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुये कहा कि रेलवे प्रवासियों को भेजे जाते समय सामाजिक दूरी के मानदंड आदि का पालन नहीं करता. इस प्रकार संक्रमण के फैलने का खतरा बढ़ जाता है.

(भाषा के इनपुट सहित)

यह भी पढ़ें: नीरव मोदी-मेहुल चोकसी की 1350 करोड़ की ज्वैलरी विदेशों से वापस लाया ED
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading