ममता बनर्जी का आरोप- BJP स्‍लोगन के तौर पर कर रही 'जय श्री राम' का इस्‍तेमाल

News18Hindi
Updated: June 2, 2019, 8:52 PM IST
ममता बनर्जी का आरोप- BJP स्‍लोगन के तौर पर कर रही 'जय श्री राम' का इस्‍तेमाल
ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

इससे पहले जब नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति भवन में लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ले रहे थे. उसी दौरान ममता बनर्जी धरना देने जा रही थीं.

  • Share this:
पश्चिम बंगाल में 'जय श्रीराम' के नारे को लेकर जारी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है. मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को ट्वीट किया, 'बीजेपी 'जय श्रीराम' का इस्‍तेमाल पार्टी स्‍लोगन के तौर पर कर रही है. ममता ने आरोप लगाया कि बीजेपी धार्मिक नारे का राजनीतिक इस्‍तेमाल कर रही है.

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, ममता बनर्जी ने कहा कि हर पार्टी का अपना स्‍लोगन होता है, जिसका वे सम्‍मान करती हैं. लेकिन, बीजेपी 'जय श्री राम' का गलत इस्‍तेमाल कर रही है. बीजेपी 'जय श्री राम' को अपनी पार्टी का स्‍लोगन बनाने में लगी हुई है.

इससे पहले जब नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति भवन में लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ले रहे थे. उसी दौरान ममता बनर्जी धरना देने जा रही थीं. तभी उनके सामने कुछ लोगों ने जय श्री राम के नारे लगाने शुरू कर दिए. इसपर वे भड़क गई थीं.

बता दें कि पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और बीजेपी के बीच सियासी घमासान जारी है. लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने वाली बीजेपी ने अब टीएमसी के जख्मों पर नमक छिड़कते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 'जय श्री राम' लिखे 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने का निर्णय लिया है.

ये भी पढ़ें: कटिहार: राम भक्तों ने ममता को भेजे जय श्री राम लिखे पोस्टकार्ड, साथ में दी शुभकामनाएं

पश्चिम बंगाल से बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद अर्जुन सिंह ने कहा, 'हमने मुख्यमंत्री के आवास पर 'जय श्री राम' लिखे 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने का निर्णय लिया है.'

तृणमूल कांग्रेस के विधायक रह चुके अर्जुन सिंह आम चुनाव से ठीक पहले बीजेपी में शामिल हो गए थे. उन्होंने ये बात बीजेपी कार्यकर्ताओं के समूह पर पुलिस द्वारा लाठीचार्ज किए जाने के बाद कही, जो उस स्थान पर 'जय श्री राम' के नारे लगा रहे थे जहां तृणमूल कांग्रेस के नेता बैठक कर रहे थे.
Loading...

ये भी पढ़ें: पीएम की शपथ में शामिल न होने पर दिल्‍ली में लगे ममता बनर्जी के पोस्‍टर

सूत्रों ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के नेता उत्तर 24 परगना जिले के कांचरापाडा में एकत्रित हुए थे, ताकि पार्टी के उन कार्यालयों को फिर से वापस लेने की रणनीति बनाई जा सके जिन्हें कथित रूप से बीजेपी कार्यकर्ताओं ने ले लिया है.

 



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 2, 2019, 8:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...