दुर्गा पूजा विवाद पर बोलीं ममता बनर्जी, 'आरोप साबित हुए तो 100 उठक-बैठक लगाऊंगी'

दुर्गा पूजा विवाद पर बोलीं ममता बनर्जी, 'आरोप साबित हुए तो 100 उठक-बैठक लगाऊंगी'
ममता बनर्जी ने विरोधियों पर साधा निशाना.

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने इस मामले में यह भी दावा किया है कि एक राजनीतिक दल राज्‍य में अफवाह फैला रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 10:20 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में दुर्गा पूजा (Durga Puja) को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों पर राजनीति का दौर जारी है. इस मामले में मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने खुद सामने आकर चुनौती देते हुए कहा है कि प्रदेश में इस साल दुर्गा पूजा को लेकर तमाम अफवाहें फैलाई जा रही हैं कि सरकार इस बार दुर्गा पूजा की अनुमति नहीं देगी. जो यह फैला रहा है वह यह बात साबित करें. ममता ने कहा है, 'अगर ऐसा साबित होता है तो मैं 100 उठक-बैठक लगाऊंगी.' ऐसे में राज्‍य में राजनीति गरम हो गई है.

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने इस मामले में यह भी दावा किया है कि एक राजनीतिक दल राज्‍य में अफवाह फैला रहा है. वह ऐसी अफवाहें फैला रहा है कि राज्‍य में इस साल दुर्गा पूजा की अनुमति नहीं दी जाएगी. मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने ये आरोप पुलिस दिवस पर सचिवालय में आयोजित एक कार्यक्रम में कहीं. उन्‍होंने अपने संबोधन में कहा, 'सुबह से मैं दुर्गा पूजा के बारे में अफवाहें सुन रही हूं कि इस बार दुर्गा पूजा के लिए इस बार राज्‍य सरकार की ओर से अनुमति नहीं दी जाएगी. इस आरोप को साबित करो. या फिर आप लोग अपने कान पकड़कर उठक बैठक करो.'

यह भी पढ़ें: 21 सितंबर से खुल सकेंगे स्कूल, अभी इन क्लास के बच्चों को ही इजाजत, जानिए दिशानिर्देश



मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए यह भी कहा, 'अगर आप लोग यह साबित करने में सफल होते हैं कि सरकार इस बार दुर्गा पूजा की अनुमति नहीं देगी या सरकार ने ऐसा कोई कदम उठाया है तो मैं अपने कान पकड़कर उठक बैठक करूंगी. मैं लोगों के प्रति जवाबदेह हूं.' वहीं पश्चिम बंगाल में कोविड-19 महामारी के चलते सोमवार को लागू राज्यव्यापी लॉकडाउन के नियमों का कुल मिलाकर राजधानी कोलकाता के लोगों ने पालन किया लेकिन कुछ अन्य जिलों से इसके उल्लंघन की खबरें हैं.
केंद्र सरकार ने ‘आनलॉक-4’ के दिशा-निर्देशों में कहा है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के परामर्श के बाद ही निषिद्ध क्षेत्र के बाहर लॉकडाउन लागू किया जा सकता है. इसके बावजूद पश्चिम बंगाल सरकार ने सात सितंबर के अलावा 11 और 12 सितंबर को प्रदेश में लॉकडाउन लागू किया है. कोलकाता पुलिस ने कई इलाकों में नाका लगाया है तथा पुलिस अलग-अलग स्थानों पर गश्त कर रही है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि लॉकडाउन के दृष्टिगत लोग अपने घरों में ही रहें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज