ईद समारोह में ममता की बीजेपी को चेतावनी, जो हमसे टकराएगा चूर-चूर हो जाएगा

बीजेपी ने मंगलवार को कहा था कि बंगाल महाकाली की भूमि है और राज्य में 'जय श्रीराम' और 'जय महाकाली' बीजेपी के नारे होंगे.

News18Hindi
Updated: June 6, 2019, 12:30 PM IST
News18Hindi
Updated: June 6, 2019, 12:30 PM IST
पश्चिम बंगाल में टीएमसी और बीजेपी के बीच वार-प्रतिवार का दौर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को फिर बीजेपी पर निशाना साधा. ममता बनर्जी रेड रोड पर ईद-उल-फितर समारोह में हिस्सा लेने के लिए पहुंची थीं.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा, "त्याग का नाम है हिन्दू, ईमान का नाम है मुसलमान, प्यार का नाम है ईसाई, सिखों का नाम है बलिदान. ये हमारा प्यार हिंदुस्तान, इसकी रक्षा हम लोग करेंगे. जो हमसे टकराएगा वो चूर-चूर हो जाएगा. ये हमारा नारा है."



इससे पहले ईद की पूर्व संध्या पर ममता बनर्जी के भतीजे और टीएमसी के सीनियर नेता अभिषेक बनर्जी ने बीजेपी के नए नारे 'जय महा काली' का मजाक उड़ाते हुए कहा था कि 'जय श्री राम' की टीआरपी कम होने की वजह से बीजेपी ने अपना नारा बदल दिया है.

बीजेपी ने मंगलवार को कहा था कि बंगाल महाकाली की भूमि है और राज्य में 'जय श्रीराम' और 'जय महाकाली' बीजेपी के नारे होंगे.

घरेलू गैस की कीमतों में वृद्धि को लेकर निकाली गई एक रैली को संबोधित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने कहा था, "उन्होंने (बीजेपी) ने जय श्री राम के नारे को बदलने का फैसला किया है, क्योंकि राम की टीआरपी नीचे की ओर है. वे राजनीति के साथ धर्म का मिश्रण कर रहे हैं."

गौरतलब है कि बीजेपी ने 'जय महाकाली' का नारा उस वक्त अपनाया जब टीएमस ने उन पर बाहरी लोगों की पार्टी होने और बंगाल की संस्कृति न समझने का आरोप लगाया.
Loading...

बता दें कि लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में अच्छे प्रदर्शन के बाद बीजेपी के हौसले बुलंद हैं. बीजेपी ने बंगाल की 42 में से 18 सीटों पर जीत दर्ज की जबकि टीएमसी की सीटें घटकर 22 हो गई जो पहले 34 थीं.

ये भी पढ़ें: ममता बनर्जी के भतीजे का BJP पर वार, कहा- राम की TRP हो गई कम

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 5, 2019, 1:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...