लाइव टीवी

शपथ ग्रहण के बाद अब नीति आयोग की बैठक में भी शामिल नहीं होंगी ममता बनर्जी

News18Hindi
Updated: June 7, 2019, 1:12 PM IST
शपथ ग्रहण के बाद अब नीति आयोग की बैठक में भी शामिल नहीं होंगी ममता बनर्जी
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में ममता बनर्जी ने कहा है कि नीति आयोग के पास किसी भी तरह की वित्तीय शक्तियां नहीं हैं इसलिए इस तरह की बैठक में शामिल होने का कोई औचित्य नहीं है.

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण सामरोह में शामिल न होने के बाद अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नीति आयोग की बैठक में भी शामिल होने से इनकार कर दिया है. इस संबंध में उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को एक चिट्ठी लिखी है. चिट्ठी में उन्होंने लिखा है कि नीति आयोग के पास किसी भी तरह की वित्तीय शक्तियां नहीं हैं. इसलिए इस तरह की बैठक में राज्यों के शामिल होने का कोई मतलब नहीं बनता.

इससे पहले ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण में भी आने से मना कर दिया था. उस समय ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर कहा था, 'संवैधानिक निमंत्रण को स्वीकार कर मेरा शपथ ग्रहण समारोह में आने का प्लान था. लेकिन पिछले एक घंटे से मैं मीडिया रिपोर्ट्स देख रही हूं ,जिसमें भाजपा दावा कर रही है कि उसके 54 लोग पश्चिम बंगाल में हो रही राजनीतिक हिंसा में मारे गए हैं, जो कि बिल्कुल गलत है.'



इसे भी पढ़ें :- इन 3 वजहों से PM मोदी के शपथग्रहण में आने के लिए मजबूर हुईं ममता बनर्जी!
Loading...

दीदी ने चिट्ठी में लिखा, 'बंगाल में कोई भी राजनीतिक हत्याएं नहीं हुई हैं. इन मौतों की वजहें व्यक्तिगत, पारिवारिक और अन्य विवाद हो सकती हैं, लेकिन कुछ भी राजनीति से संबंधित नहीं है. हमारे पास ऐसा कोई रिकॉर्ड नहीं है. मुझे माफ करें नरेंद्र मोदी जी. इसी वजह से मैं इस समारोह में शामिल नहीं हो रही हूं. ये समारोह लोकतंत्र का जश्न मनाने का मौका है न कि किसी पार्टी को कम आंक कर राजनीति में नंबर बनाने का है. मुझे माफ करें.'


इसे भी पढ़ें :- कमल के चिन्ह को पेंट कर ममता ने बनाया TMC का निशान, बोलीं दफ्तर पर कब्जा हुआ

चुनाव से पहले चल रहा विवाद
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव 2019 खत्म होने के बाद भी पश्चिम बंगाल में बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के बीच विवाद कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है. जय श्रीराम बोलने पर हुए हंगामे के बाद  दोनों ही पार्टियों के बीच दफ्तर को लेकर भी मारामारी शुरू हो गई थी. उत्तर 24 परगना जिले में खुद ममता बनर्जी बीजेपी दफ्तर पहुंचीं और दफ्तर में लगा ताला खुलवाया. आरोप है कि यहां ममता बनर्जी ने कमल के निशान को पेंट कर उस पर TMC का निशान बना दिया. तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया है कि बीजेपी ने उनके दफ्तर पर कब्जा किया है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 7, 2019, 12:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...