लोकसभा चुनाव में हार के बाद TMC में 'गद्दारों' की खोज करेंगी ममता

एक टीएमसी नेता ने कहा कि उन्हें करीब 70 लाख सरकारी कर्मचारियों के परिजनों के वोट भी नहीं मिले क्योंकि राज्य में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू नहीं की गई हैं.'

News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 4:53 PM IST
लोकसभा चुनाव में हार के बाद TMC में 'गद्दारों' की खोज करेंगी ममता
(PTI Photo/Swapan Mahapatra)
News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 4:53 PM IST
पश्चिम बंगाल में अपने किले में सेंध लगने के बाद सतर्क हुई 'दीदी' अब गद्दारों की खोज में लग गई हैं. 129 विधानसभा क्षेत्रों में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के लीड करने के बाद तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी)  की नेता और और ममता बनर्जी अब गद्दारों की तलाश कर रही हैं.

टीएमसी के एक सूत्र ने बताया कि 60 विधानसभा सीटों पर बीजेपी सिर्फ 4 हजार वोटों के अंतर से हारी है जो हमारे लिए चिंता की बात है. इसके साथ ही 192 ऐसे विधानसभा क्षेत्रों की पहचान की गई है जो उत्तरी और पश्चिमी इलाके हैं.



अंग्रेजी अखबार इकॉनमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार ममता ने सीनियर नेताओं को ऐसे नेताओं की पहचान करने के लिए कहा है जो सीपीएम से बीजेपी और टीएमसी से बीजेपी कोे वोट ट्रांसफर कराने में मददगार थे. रिपोर्ट के अनुसार टीएमसी के सर्वे में यह बात सामने आई है कि टीएमसी को जंगलमहल और उत्तरी बंगाल से 'गरीबों के वोट' नहीं मिले. इस इलाके में आदिवासी ज्यादा हैं.

यह भी पढ़ें:  राहुल गांधी के इस्तीफे पर प्रियंका भी तैयार!

नहीं मिले सरकारी कर्मचारियों के वोट
नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर एक टीएमसी नेता ने कहा कि उन्हें करीब 70 लाख सरकारी कर्मचारियों के परिजनों के भी वोट नहीं मिले क्योंकि राज्य में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू नहीं की गई हैं.'

TMC नेता ने कहा, 'जहां हम हारे वहां विधान सभावार विश्लेषण करें तो पाएंगे यह हार खुद नहीं हुई बल्कि बनाई गई है. ऐसा इसलिए है क्योंकि एक गद्दार बीजेपी में शामिल हो गया. उसे पता है कि किससे मुलाकात करनी है और वोट कैसे ट्रांसफर होंगे.'
Loading...

यह भी पढ़ें:  

इन महिलाओं ने बताया आखिर मोदी को ही क्यों दिया वोट...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...