CM ममता का PM मोदी को खत, कहा-वैक्सीन का तुरंत आयात बहुत जरूरी

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को कोरोना वैक्सीन के मुद्दे पर खत लिखा है. (फाइल फोटो)

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को कोरोना वैक्सीन के मुद्दे पर खत लिखा है. (फाइल फोटो)

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) से कहा है कि वैक्सीन की कमी को देखते हुए देश में ग्लोबल वैक्सीन उत्पादकों से वैक्सीन आयात किया जाना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा है कि पीएम मोदी देशी और विदेशी वैक्सीन उत्पादकों को भारत में ऑपरेशन स्टार्ट करने के लिए उत्साहित कर सकते हैं. पश्चिम बंगाल सरकार इन उत्पादकों की मदद के लिए तैयार है.

  • Share this:

नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को एक बार फिर खत लिखा है. उन्होंने प्रधानमंत्री से कहा है कि वैक्सीन की कमी को देखते हुए देश में ग्लोबल वैक्सीन उत्पादकों से वैक्सीन आयात की जानी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा है कि पीएम मोदी देशी और विदेशी वैक्सीन उत्पादकों को भारत में ऑपरेशन स्टार्ट करने के लिए उत्साहित कर सकते हैं. पश्चिम बंगाल सरकार इन उत्पादकों की मदद के लिए तैयार है.

ममता बनर्जी ने लिखा है कि देश में इस वक्त वैक्सीन की कमी है. उन्होंने बंगाल की 10 करोड़ और देश की 140 करोड़ जनता का हवाला देते हुए कहा है कि वर्तमान में वैक्सीन बेहद कम लोगों को उपलब्ध हो पा रही है. इसी वजह से विदेशों से वैक्सीन का आयात तुरंत किया जाना बेहद जरूरी है.

Youtube Video

रविवार को भी पीएम मोदी को लिखा था खत
इससे पहले भी ममता बनर्जी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे कोविड-19 महामारी से लड़ने में इस्तेमाल होने वाले उपकरण और दवाइयों पर सभी तरह के करों और सीमा शुल्क में छूट देने का अनुरोध किया था. बनर्जी ने मोदी से स्वास्थ्य बुनियादी ढांचा मजबूत करने और कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए उपकरण, दवाओं तथा ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने का भी अनुरोध किया था. उन्होंने पत्र में कहा था, ‘बड़ी संख्या में संगठन, लोग और परोपकारी एजेंसियां ऑक्सीजन सांद्रक, सिलेंडर, कंटेनर और कोविड संबंधित दवाएं दान देने के लिए आगे आई हैं.’ उन्होंने कहा, ‘कई दानदाताओं ने इन पर सीमा शुल्क, एसजीएसटी, सीजीएसटी, आईजीएसटी से छूट देने पर विचार करने के लिए राज्य सरकार का रुख किया है.’

बनर्जी ने कहा था, ‘चूंकि इनकी कीमतें केंद्र सरकार के कार्य क्षेत्र में आती हैं तो मैं अनुरोध करती हूं कि इन सामान पर जीएसटी/सीमा शुल्क और अन्य ऐसे ही शुल्कों तथा करों से छूट दी जाए ताकि कोविड-19 महामारी के कुशल प्रबंधन में उपरोक्त जीवनरक्षक दवाओं और उपकरणों की आपूर्ति बढ़ाने में मदद मिल सके.’

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज