लाइव टीवी

बंगाल: मुस्लिम छात्रों के लिए स्कूलों में अलग डाइनिंग हॉल, BJP ने लगाया बांटने का आरोप

News18Hindi
Updated: June 28, 2019, 4:55 PM IST
बंगाल: मुस्लिम छात्रों के लिए स्कूलों में अलग डाइनिंग हॉल, BJP ने लगाया बांटने का आरोप
ममता सरकार ने सभी सरकारी स्कूलों को जारी किया आदेश

अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री गयासुद्दीन मुल्ला ने कहा कि यह प्रोजेक्ट अल्पसंख्यक और मदरसा शिक्षा विभाग के द्वारा चलाया जा रहा है.

  • Share this:
पश्चिम बंगाल में ममता सरकार ने सरकारी स्कूलों में मिड-डे मील के लिए मुस्लिम छात्रों के लिए अलग डाइनिंग हॉल बनाने का आदेश दिया है. ये डाइनिंग हॉल उन्हीं स्कूलों में बनेंगे जहां 70 फीसदी से अधिक मुस्लिम बच्चे पढ़ते हैं. ममता बनर्जी सरकार के इस आदेश पर बीजेपी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि ममता बनर्जी बंगाल में बांटने की राजनीति कर रही हैं. उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर लोगों को बांटा जा रहा है. राज्य सरकार का यह आदेश ठीक नहीं है. विरोध बढ़ता देख ममता सरकार ने स्पष्टीकरण जारी किया है.

अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री गयासुद्दीन मुल्ला ने कहा कि यह प्रोजेक्ट अल्पसंख्यक और मदरसा शिक्षा विभाग के द्वारा चलाया जा रहा है. इस प्रोजक्ट के तहत विभाग अल्पसंख्यक बहुल संस्थानों में बुनियादी ढांचे के लिए काम कर रहा है, ताकु मुस्लिम बच्चों के विकास सुनिश्चित हो सके.

स्कूलों के मांगे नाम

कूच बिहार जिला मजिस्ट्रेटकीके ओर से एक आदेश जारी किया गया है. आदेश में उन सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों का नाम मांगा है, जहां 70 फीसदी से ज्यादा मुस्लिम पढ़ते हैं. इन बच्चों के लिए स्कूलों में अलग से डाइनिंग हॉल बनाया जाएगा. इसके लिए प्रस्ताव भेजने की तैयारी की जा रही है.

बीजेपी ने लगाया तुष्टिकरण का आरोप
बता दें कि ममता सरकार का यह आदेश ऐसे समय आया है, जब राज्य में टीएमसी और मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी के बीच राजनीतिक तनाव का माहौल है. बीजेपी ममता सरकार पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाती रही है. लोकसभा चुनाव के बाद से ही बंगाल में हिंसा जारी है. कई लोग इस हिंसा में जान गंवा चुके हैं.ये भी पढ़ें- RAW, IB, NSG समेत देश की टॉप 8 एजेंसियों के बॉस में है ये बड़ा कनेक्शन 

मॉब लिंचिंग के शिकार हुए लोगों में आधे से ज्यादा गैरमुस्लिम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 28, 2019, 3:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर