ममता सरकार ने ठुकराया फानी की रिव्यू मीटिंग के लिए मोदी का प्रपोजल, कहा- बिज़ी हैं अफसर

सूत्रों के मुताबिक, 'फानी' चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री मोदी बंगाल सरकार के साथ बैठक करना चाहते थे, लेकिन ममता ने चुनावी व्यस्तताओं का हवाला देते हुए इसे टाल दिया.

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की चीफ मिनिस्टर ममता बनर्जी के बीच जारी मतभेद अब खुलकर सामने आ रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, 'फानी' चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री मोदी बंगाल सरकार के साथ बैठक करना चाहते थे, लेकिन ममता ने चुनावी व्यस्तताओं का हवाला देते हुए इसे टाल दिया.

ये भी पढ़ें: 'फानी' को लेकर फोन मिलाते रहे पीएम मोदी, ममता ने नहीं दिया जवाब

क्या कहा ममता सरकार ने?
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पीएमओ की तरफ से पश्चिम बंगाल सरकार के साथ फानी पर एक रिव्यू मीटिंग प्रस्तावित की गई थी. ममता सरकार ने इस प्रपोजल को ठुकराते हुए जवाब दिया है कि फिलहाल सभी अधिकारी चुनाव की ड्यूटी में व्यस्त हैं. मोदी आज ओडिशा दौरे पर हैं, जहां उन्होंने फानी के बाद हुए नुकसान और राहत कार्यों का जायजा लिया. इसी तरह पश्चिम बंगाल सरकार के साथ भी एक रिव्यू मीटिंग प्रस्तावित थी, जिसे ममता सरकार ने ठुकरा दिया.
पहले भी नहीं उठाया था फोन


सूत्रों के मुताबिक, पीएमओ के स्टाफ ने पहले भी दो बार प्रधानमंत्री की पश्चिम बंगाल के सीएम से बात करानी चाही थी. दोनों ही बार उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया. नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर पीएमओ सूत्र ने News18 से बताया था कि, 'स्टाफ ने पहली बार जब फोन किया तो यह जानकारी दी कि पश्चिम बंगाल की सीएम दौरे पर हैं और कॉल किया जाएगा. दूसरी बार भी स्टाफ ने फोन किया तब भी यही जवाब मिला.'

ये भी पढ़ें- फानी प्रभावित इलाकों के लिए एयरलाइंस कंपनी विस्तारा की बड़ी राहत! किया ये ऐलान

समाचार एजेंसी PTI के अनुसार, ममता से बात न हो पाने की दशा में फिर प्रधानमंत्री ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी से बात की. इससे पहले तृणमूल कांग्रेस ने फानी तूफान के कारण जमीनी हालात की जानकारी लेने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बजाय पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी से बात करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की थी. टीएमसी ने आरोप लगाया था कि मोदी देश के संघीय ढांचे का सम्मान नहीं करते हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज