राजनीतिक फायदे के लिए माओवाद को बढ़ावा दे रहीं ममता: बंगाल BJP ने केंद्र को बताया

भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष.
भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी (West Bengal BJP) के अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिख बताया है कि ममता बनर्जी सरकार राजनीतिक फायदे के लिए खतरनाक डबल गेम खेल रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 8:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल बीजेपी (West Bengal BJP) के अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखकर कहा है कि ममता बनर्जी सरकार (Mamata Banerjee Govt) राजनीतिक फायदे के लिए माओवाद को बढ़ावा दे रही है. उन्होंने जंगलमहल इलाके का जिक्र कर कहा है कि यहां पर बीते लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने प्रभावशाली प्रदर्शन किया था. केंद्र सरकार के तत्काल हस्तक्षेप की मांग करते हुए उन्होंने लिखा है कि ममता सरकार खतरनाक डबल गेम खेल रही है.

इसके अलावा घोष ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा मुर्शिदाबाद जिले से 6 अलकायदा संदिग्धों की तरफ भी ध्यान दिलाया है. उन्होंने लिखा है-वोटबैंक की राजनीति के लिए ममता सरकार की तुष्टिकरण की नीति ने कट्टर इस्लामिक संगठनों को गतिविधियों की छूट दे रखी है. तृणमूल शासन के दौरान पश्चिम बंगाल में बम और हथियार बनाने की गैरकानूनी इंडस्ट्री खड़ी हो गई है. सत्ताधारी पक्ष अपनी ताकत बनाए रखने के लिए हिंसा का इस्तेमाल करता है.

बंगाल के खड़गपुर के चार बीजेपी नेता तृणमूल में शामिल हुए
घोष के इस लेटर से इतर पश्चिम बंगाल के खड़गपुर से भाजपा के चार नेता अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ बुधवार को तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए जिससे इस औद्योगिक क्षेत्र में तृणमूल को बल मिला है. पार्टी मुख्यालय में राज्य की स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य की उपस्थिति में भाजपा नेता शैलेन्द्र सिंह, अजय चटर्जी, राजदीप गुहा और सजल रॉय तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए.
भाजपा के चार नेताओं के तृणमूल में शामिल होने पर दिलीप घोष ने कहा, 'कुछ लालची लोगों का भाजपा में रह कर भी तृणमूल से संपर्क था. वह चले गए. उनका नकाब उतर गया है. इससे पार्टी को कोई नुकसान नहीं होगा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज