होम /न्यूज /राष्ट्र /रवींद्रनाथ टैगोर के नोबेल पुरस्कार चोरी के मामले पर भड़कीं ममता बनर्जी, बोलीं- ‘बंगाल की जनता का है अपमान’

रवींद्रनाथ टैगोर के नोबेल पुरस्कार चोरी के मामले पर भड़कीं ममता बनर्जी, बोलीं- ‘बंगाल की जनता का है अपमान’

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कई बार इस मामले को उठा चुकी हैं (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कई बार इस मामले को उठा चुकी हैं (फाइल फोटो)

25 मार्च 2004 को विश्व भारती संग्राहलय से रवींद्रनाथ टैगोर के नोबेल पुरस्कार पदक और प्रशस्ति पत्र चोरी हो गए थे. पश्चिम ...अधिक पढ़ें

कोलकता.आज से 18 साल पहले देश के राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ के रचयिता महाकवि गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर का नोबेल पुरस्कार कड़ी सुरक्षा के बीच चोरी हो जाती है. मामला केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपा जाता है. मगर सीबीआई के हाथ कुछ नहीं लगता. आखिरकार वह मामले की जांच बंद कर देती है. अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कहती हैं कि यह राज्य के लोगों का ‘बड़ा अपमान’ है, क्योंकि सीबीआई मेडल को बरामद नहीं कर सकी. रवींद्रनाथ टैगोर के 161वीं जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सीएम ममता बनर्जी ने कहा, ‘यह हमारा पहला नोबेल पुरस्कार था और किसी ने इसे चुरा लिया. हम सभी के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है कि इतने सालों के बाद भी नोबेल पुरस्कार का पता नहीं चल सका.’

गौरतलब है कि गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर का पदक और प्रशस्ति पत्र 25 मार्च 2004 को विश्व भारती संग्रहालय से चोरी हो गए थे. इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, ममता बनर्जी ने उस कार्यक्रम में यह भी कहा, ‘ गुरुदेव का नोबेल पुरस्कार हमारे लिए गर्व की बात थी. लेकिन हम उनके पदक को सुरक्षित नहीं रख सके. अवार्ड चोरी हो गया. यह मुझे नहीं पता कि जांच के दौरान सभी सबूत संरक्षित रखे गए थे या नहीं, लेकिन यह हमारा बहुत बड़ा अपमान है.’

‘हमें नोबेल पुरस्कार वापस चाहिए’

इससे पहले तृणमूल कांग्रेस ने अपने मुख्यपत्र ‘जागो बांग्ला’ में टैगोर के नोबेल पुरस्कार की चोरी के मामले में सीबीआई को कड़ा संदेश दिया. मुखपत्र में लिखा गया है- ‘सुनो सीबीआई, हमें नोबेल पुरस्कार वापस चाहिए.’ वैसे तो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कई बार इस मामले को उठा चुकी हैं, लेकिन इस बार खास यह है कि 2 महीने के भीतर राज्य से जुड़े 7 मामले सीबीआई को सौंपे गए हैं. लिहाजा, राजनीतिक हलकों में इसे अलग दृष्टि से देखा जा रहा है.

भाजपाटीएमसी का आरोप-प्रत्यारोप

भाजपा नेता राहुल सिन्हा ने बीते सोमवार को तृणमूल कंग्रेस पर पलटवार करते कहा कि इस घटना में ममता बनर्जी की पार्टी का संबंध है. उन्होंने कहा कि जब मामले की जांच चल रही थी तो राज्य सरकार सहयोग नहीं कर रही थी. अब वे कह रहे हैं कि अवार्ड कहां है? राहुल सिन्हा की बातों का जवाब देते हुए टीएमसी प्रवक्ता ने कहा कि सिन्हा झूठ बोल रहे हैं और बकवास कर रहे हैं.

Tags: CBI Probe, Mamta Banarjee, Rabindranath Tagore

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें