लाइव टीवी

Citizenship Amendment Bill के खिलाफ 16 दिसंबर को टीएमसी करेगी रैली, ममता बनर्जी होंगी शामिल

News18Hindi
Updated: December 13, 2019, 4:32 PM IST
Citizenship Amendment Bill के खिलाफ 16 दिसंबर को टीएमसी करेगी रैली, ममता बनर्जी होंगी शामिल
ममता बनर्जी लगातार इस विधेयक का विरोध करती रही हैं.

नागरिकता संशोधन बिल 2019 (Citizenship Amendment Bill ) का विरोध कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने किया है जिसमें पंजाब, छत्तीसगढ़, केरल और पश्चिम बंगाल राज्य प्रमुख हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 13, 2019, 4:32 PM IST
  • Share this:
दीघा (पश्चिम बंगाल). भाजपा नीत केंद्र सरकार द्वारा नागरिकता कानून में संशोधन किए जाने के विरोध में तृणमूल कांग्रेस राज्य में Citizenship amendment bill का विरोध करेगी. TMC के ट्विटर अकाउंट पर इसकी जानकारी दी गई है. TMC ने टवीट कर बताया है कि  'तृणमूल के जिला संगठन राज्य भर में दिसंबर 2018 को #CitizenshipAmendmentBill के मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन करेंगे 17 दिसंबर को मेव रोड पर गांधी प्रतिमा तक जादवपुर से एक और रैली निकाली जाएगी.' वहीं 16 दिसंबर को ममता की अगुवाई में रैली होगी. यह रैली कोलकाता में होगी.

इससे पहले संशोधन की आलोचना करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि 'वह किसी भी सूरत' में इसे अपने राज्य में लागू नहीं करने देंगी. सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने यहां कहा कि बीजेपी कानून को लागू करने के लिए राज्यों को बाध्य नहीं कर सकती.

ममता ने कहा, 'हम कभी भी राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और नागरिकता कानून को बंगाल में अनुमति नहीं देंगे. हम नागरिकता कानून में संशोधन को लागू नहीं करेंगे, भले ही इसे संसद ने पारित किया है. भाजपा राज्यों को इसे लागू करने के लिए बाध्य नहीं कर सकती.'

File photo of West Bengal CM Mamata Banerjee (PTI)

ममता ने दिल्ली की यात्रा रद्द की
राज्य में सिलसिलेवार विरोध प्रदर्शनों की घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से जुड़े समारोह से संबंधित बैठक में शामिल होने के लिए प्रस्तावित दिल्ली यात्रा भी रद्द कर दी है.

उन्होंने कहा, ' नागरिकता कानून भारत को विभाजित करेगा. जब तक हम सत्ता में हैं, राज्य के एक भी व्यक्ति को भी देश नहीं छोड़ने देंगे.' जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे की प्रस्तावित असम यात्रा का संदर्भ देते हुए ममता ने कहा कि यह देश की साख पर 'धब्बा' होगा अगर पूर्वोत्तर में नागरिकता कानून के विरोध के चलते वह अपनी यात्रा रद्द कर देते हैं. उल्लेखनीय है कि आबे का गुवाहाटी दौरा रद्द हो गया है.यह भी पढ़ें:  CAB: विरोध करने वाले कुछ नेताओं को पार्टी से सस्पेंड कर सकती है JDU - सूत्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2019, 4:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर