लाइव टीवी

ममता बनर्जी ने कहा- PM मोदी ने NRC पर गृह मंत्री से अलग बयान दिया

भाषा
Updated: December 22, 2019, 11:27 PM IST
ममता बनर्जी ने कहा- PM मोदी ने NRC पर गृह मंत्री से अलग बयान दिया
ममता बनर्जी ने कहा है कि पीएम मोदी ने गृहमंत्री से अलग बयान दिया है (फाइल फोटो, PTI)

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और एनआरसी (NRC) पर उनकी और मोदी की टिप्पणियां सभी के सामने हैं और लोग तय करेंगे कि कौन सही है और कौन गलत.

  • भाषा
  • Last Updated: December 22, 2019, 11:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने रविवार को दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने एनआरसी (NRC) के प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी क्रियान्वयन पर सार्वजनिक रूप से गृहमंत्री (Home Minister) के रूख से विपरीत बयान दिया है .

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और एनआरसी (NRC) पर उनकी और मोदी की टिप्पणियां सभी के सामने हैं और लोग तय करेंगे कि कौन सही है और कौन गलत.

'लोग फैसला करेंगे कि कैन सही है कौन गलत'
ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने ट्वीट किया , ‘‘ मैंने जो कुछ कहा है, वह सभी के सामने है और आपने जो कुछ कहा है, वह भी सभी सामने है, लोगों को इस पर फैसला करने दीजिए. प्रधानमंत्री राष्ट्रव्यापी एनआरसी पर सार्वजनिक रूप से गृहमंत्री से भिन्न बयान दे रहे हैं, ऐसे में कौन भारत के मूल विचार को तोड़ रहा है? निश्चित ही लोग फैसला करेंगे कि कौन सही है कौन गलत.’’



दिन में नयी दिल्ली में एक रैली में मोदी ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) में घुसपैठ के खिलाफ संसद में बनर्जी द्वारा दिये गये एक भाषण का हवाला दिया और उन पर ‘वोटबैंक की राजनीति’ करने और इसके लिए अपना रूख बदलने का आरोप लगाया.

येचुरी ने कहा कि पीएम मोदी को NRC पर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए
वहीं मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) से जुड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक बयान का हवाला देते हुए रविवार को सवाल किया कि जब एनआरसी पर कैबिनेट में कोई चर्चा नहीं हुई तो फिर गृह मंत्री अमित शाह इसे लागू करने का बयान क्यों दे रहे हैं.

जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ छात्रों के प्रदर्शन में भाग लेने पहुंचे येचुरी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को एनआरसी पर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए. उन्होंने कहा, ' इस तरह का कानून लाना संविधान के खिलाफ है. इस देश का एक ही हॉली बुक हमारा संविधान है. संविधान की रक्षा और अपने अधिकार के लिए लड़ेंगे."

'जब कैबिनेट में NRC की चर्चा नहीं तो गृह मंत्री बार-बार क्यों कर रहे इसकी बात'
माकपा (CPM) नेता ने कहा, " मोदी भाषण दे रहे थे कि किसी की नागरिकता छीन नहीं रहे हैं. लेकिन सवाल यह है कि नागरिकता के साथ धर्म को क्यों जोड़ रहे हैं?" उन्होंने सवाल किया कि जब एनआरसी पर कैबिनेट में चर्चा नहीं हुई तो फिर गृह मंत्री बार बार क्यों एनआरसी की बात कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, 'आप पांच ट्रिलियन अर्थव्यवस्था (Five Trillion Economy) की बात कर रहे हैं, लेकिन अपने एक घण्टे के भाषण में लोगों से जुड़े आम मुद्दों के बार कुछ नहीं कहा. किसान खुदकुशी कर रहा है, लोग महंगाई से जूझ रहे हैं और अर्थव्यवस्था डूब रही है. लेकिन इन समस्याओं का कोई जिक्र नहीं है.' येचुरी ने कहा, ' आप बताइए कि लोगों की समस्याओं को दूर करने के लिए क्या कर रहे हैं?"

यह भी पढ़ें: PM मोदी बोले-CAA का हिंदू-मुस्लिम से वास्ता नहीं, पढ़ें 10 बड़ी बातें!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 22, 2019, 10:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,509

     
  • कुल केस

    1,603,896

    +612
  • ठीक हुए

    356,656

     
  • मृत्यु

    95,731

    +38
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर