Home /News /nation /

ममता बनर्जी ने शुरू की गोवा फतह की तैयारी, 28 अक्टूबर से 5 दिन के दौरे पर

ममता बनर्जी ने शुरू की गोवा फतह की तैयारी, 28 अक्टूबर से 5 दिन के दौरे पर

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी . (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी . (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल में बंपर जीत से उत्साहित टीएमसी (TMC) की नजरें अब कई अन्य राज्यों पर टिक गई है. इसी क्रम में बंगाल की सीएम और टीएमसी की मुखिया ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) 28 अक्‍टूबर को गोवा दौरे पर पहुंच रही हैं. यह उनका पहला गोवा दौरा होगा. 5 दिन के प्रवास के दौरान वह राज्य में पार्टी की जीत की रणनीति बनाएंगी.

अधिक पढ़ें ...

    कोलकाता. पश्चिम बंगाल में बंपर जीत से उत्साहित टीएमसी (TMC) की नजरें अब कई अन्य राज्यों पर टिक गई है. इसी क्रम में बंगाल की सीएम और टीएमसी की मुखिया ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) 28 अक्‍टूबर को गोवा दौरे पर पहुंच रही हैं. यह उनका पहला गोवा दौरा होगा. 5 दिन के प्रवास के दौरान वह राज्य में पार्टी की जीत की रणनीति बनाएंगी. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) गोवा विधानसभा चुनाव  (Goa Assembly Election 2022) लड़ने की तैयारी में है.

    टीएमसी अगले साल होने वाले चुनाव में सत्ताधारी दल भाजपा को चुनौती देने के इरादे में है. गोवा विधानसभा में 40 सीटें हैं और ये त्रिपुरा से भी छोटा है. 2017 के विधानसभा चुनाव में यहां कांग्रेस ने 17 सीटों पर जीत हासिल की थी और भारतीय जनता पार्टी ने 13 सीट हासिल की थीं, लेकिन उसके बावजूद यहां भाजपा ने अपनी सरकार बनाई थी. ममता बनर्जी विभिन्‍न कार्यक्रमों में हिस्‍सा लेंगी और वे 1 नवंबर को पश्चिम बंगाल लौटेंगी. सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया है कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (आई-पेक) की 200 लोगों की टीम गोवा में टीएमसी के लिए काम करने में जुटी हुई है. फरवरी 2022 को गोवा में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है और तृणमूल कांग्रेस उसमें अपनी उपस्थिति दर्ज कराने को लेकर आश्वस्त है.

    ये भी पढ़ें :  बालाकोट.. बालाकोट.. क्या नियंत्रण रेखा बदल बदल गई? फारुक अब्दुल्ला ने उठाए सवाल

    ये भी पढ़ें :  100 Crore Vaccination in India: भारत में कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज, जानें किसने क्या कहा

    टीएमसी के सूत्रों का कहना है कि गोवा में कांग्रेस की कमजोरी का उनकी पार्टी को फायदा मिल सकता है. यहां के लोगों ने पिछले चुनाव में वास्तव में भाजपा के खिलाफ वोट दिया था लेकिन फिर भी भाजपा सत्ता में आई. ऐसे में तृणमूल कांग्रेस को लोगों के जेहन में बस ये बात लानी है कि भाजपा को बाहर करने का बस एक ही तरीका है कि वे टीएमसी को वोट दें. अन्यथा चुनाव के नतीजों के बाद दूसरे दलों के विधायक भगवा पार्टी की तरफ रुख कर लेंगे.

    तृणमूल, गोवा के लोगों के सामने बंगाल के प्रदर्शन को भी प्रस्तुत करेगी. अप्रैल-मई में हुए विधानसभा चुनाव की जीत के बाद से ही टीएमसी देश भर में ये जाहिर करने की कोशिश में लगी हुई है कि भाजपा के विजय रथ को अगर कोई रोक सकता है तो वो ममता बनर्जी हैं. अभिषेक बनर्जी ने भी जून में पार्टी का महासचिव बनने के बाद ही अपनी राष्ट्रीय महत्वाकांक्षाओं को जाहिर किया था. पश्चिम बंगाल में भाजपा को पीछे छोड़ते हुए एक निर्णायक जीत हासिल करने के बाद से ही ममता और उनकी पार्टी के सदस्य कई बार ये बात दोहरा चुके हैं कि उनके दल की 2024 के चुनाव में देश के दूसरे हिस्सों में तृणमूल कांग्रेस की मौजूदगी को प्रभावी बनाने की योजना है. भाजपा शासित त्रिपुरा में उन्हें टक्कर देने की झलक पहले से ही नजर आने लगी है जहां पर 2023 में चुनाव होने हैं.

    Tags: CM Mamata Banerjee, Goa Assembly Election 2022, TMC

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर