Home /News /nation /

कर्नाटकः सीएम सिद्धारमैया के जूते का फीता बांध रहा शख्स कौन? वीडियो वायरल

कर्नाटकः सीएम सिद्धारमैया के जूते का फीता बांध रहा शख्स कौन? वीडियो वायरल

मैसुरू में एक कार्यक्रम में एक शख्स के कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के जूते का फीता बांधने का वीडियो वायरल हो गया है. इस पर विपक्षी दल भाजपा ने उन्हें ‘अहंकारी’ और ‘छद्म समाजवादी’ करार दिया.

  • Bhasha
  • Last Updated :
    मैसुरू में एक कार्यक्रम में एक शख्स के कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के जूते का फीता बांधने का वीडियो वायरल हो गया है. इस पर विपक्षी दल भाजपा ने उन्हें ‘अहंकारी’ और ‘छद्म समाजवादी’ करार दिया. वीडियो में दिख रहा है कि एक शख्स झुकता है और सिद्धारमैया के जूते का फीता बांधता है और वह कहीं और देख रहे होते हैं.

    स्थानीय लोगों की ओर से बताया जा रहा है कि वह शख्स सिद्धारमैया का निजी सहायक था जो मैसुरू स्थित उनके घर में रहता है. वहीं मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार ने एक ट्वीट में स्पष्ट किया कि वह उनका रिश्तेदार है.

    कर्मचारी नहीं सीएम का रिश्तेदार है शख्स

    ट्वीट में कहा गया है, ‘‘यह स्पष्ट किया जाता है कि मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के जूते का फीता बांध रहा व्यक्ति उनका कर्मचारी नहीं है बल्कि उनका रिश्तेदार है (कर्नाटक के मुख्यमंत्री का मीडिया सलाहकार)’’

    भाजपा ने बताया ‘अहंकारी’ और ‘छद्म समाजवादी’

    इस मामले में भाजपा ने त्वरित प्रतिक्रिया दी है. पार्टी के राज्य महासचिव सी टी रवि ने सिद्धारमैया को ‘अहंकारी’ और ‘छद्म समाजवादी’ बताया. रवि ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘छद्म समाजवादी का अहंकार ऐट सीएमऑफकर्नाटक की कोई सीमा नहीं है. बिल्कुल घृणित बात है कि सिद्धारमैया अपना जूता एक सहायक से बंधवाते हैं.’’

    पहले महंगी घड़ी लेकर घिर चुके हैं सिद्धारमैया

    इससे पहले इसी साल मार्च में सिद्धारमैया एक महंगी घड़ी तोहफे में दिए जाने को लेकर विवादों में घिर गए थे. तब उन्होंने इसे कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा था और इसे राज्य की संपत्ति बताया था.

    Tags: BJP, Congress, Karnataka

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर