बारिश के पानी से भरी थी सड़क, सफाई के लिए खुद सीवर में उतरे BJP पार्षद, Video viral

बारिश के पानी से भरी थी सड़क, सफाई के लिए खुद सीवर में उतरे BJP पार्षद, Video viral
मनोहर शेट्टी मेंगलुरु की कादरी दक्षिणी सीट के कॉरपोरेटर हैं.

मैनहोल से बाहर आते हुए मनोहर शेट्टी (Manohar Shetty) की किसी ने तस्वीर ले ली और फिर ये तस्वीर वायरल हो गई है. शेट्टी सेलिब्रेटी बन गए हैं.

  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक के मेंगलुरु (Mangaluru) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के एक कॉरपोरेटर (पार्षद) रातोंरात सोशल मीडिया पर छा गए हैं. उनकी तस्वीरें खूब वायरल हो रही हैं. दरअसल शहर में हुई तूफानी बारिश के बाद सड़कों पर फंसे पानी को निकालने के लिए मनोहर शेट्टी (Mnohar Shetty) खुद ही सीवर के भीतर चले गए.

शेट्टी ने किया बिल्कुल अलग व्यवहार
जब आपके शहर में सड़कों पर पानी भरा हुआ हो, बाढ़ जैसी स्थिति बनी हुई हो तो आप क्या करेंगे? आप अपने स्थानीय पार्षद को कॉल करेंगे. और फिर वो मजदूरों को सीवर के भीतर उतार कर पानी का रास्ता साफ करने के काम में लगाएगा. लेकिन मेंगलुरु के बीजेपी के कॉरपोरेटर मनोहर शेट्टी खुद ही मैनहोल के भीतर चले गए. शेट्टी कादरी दक्षिणी सीट के कॉरपोरेटर हैं. मैनहोल से बाहर आते हुए उनकी किसी ने तस्वीर ले ली और फिर ये तस्वीर वायरल हो गई है. शेट्टी सेलिब्रेटी बन गए हैं.

बारिश के पानी से पैदा हुई मुश्किलें
शेट्टी के मुताबिक कचरा फंसा हुआ होने की वजह से बारिश का पानी निकलने के लिए बनाया गया एक नाला ओवरफ्लो कर रहा था. पानी सड़क पर बह रहा था जिसकी वजह से पैदल यात्रियों को दिक्कत हो रही थी, साथ ही ट्रैफिक भी बहुत धीमा हो गया था. जब उन्होंने मजदूरों को ये काम करने के लिए कहा तो उन्होंने मना कर दिया. मजदूरों का कहना था कि मानसून के मौसम में सीवर के भीतर जाना खतरनाक है. इसके बाद उन्होंने नगर निगम के जरिए एक मशीन लगवाकर भी पानी निकलवाने की कोशिश की, लेकिन ये प्रयास भी विफल रहा.



ये भी पढ़ें- रामदेव की कोरोनिल: मरीजों में ट्रायल के दौरान लक्षण बढ़ने पर दी एलोपैथिक दवा?

शेट्टी कहते हैं- 'मैंने जेट ऑपरेटर से कहा कि भीतर जाकर कचरे की सफाई कीजिए जिससे पाइपलाइन साफ हो जाए. लेकिन उसने ऐसा करने से मना कर दिया. कोई तैयार नहीं था. फिर इसलिए मैंने ही मैनहोल में जाकर में सफाई के बारे सोचा. मुझे अंधेरे मैनहोल में घुसते देख मेरी पार्टी के चार और कार्यकर्ता भी अंदर आ गए. फिर टॉर्च के सहारे हमने सफाई की. इसमें हमें आधा दिन लग गया. लेकिन हमने अंदर फंसा कचरा साफ कर दिया. जिससे पाइपलाइन साफ हो गई और पानी आराम से निकलने लगा. सड़क पर जमा हुआ पानी भी साफ हो गया.

शेट्टी कहते हैं-हम सिर्फ गरीब लोगों पर मैनहोल की सफाई के लिए दबाव नहीं डाल सकते हैं. अगर कुछ गड़बड हुआ तो कौन जिम्मेदारी लेगा? इसी वजह से ये सबकुछ मैने खुद ही किया. अपनी वायरल तस्वीर के बारे में शेट्टी ने कहा कि ये सबकुछ उन्होंने किसी लोकप्रियता के लिए नहीं किया है. ये उनकी ड्यूटी का हिस्सा था. वो कहते हैं-हम लोग चुने हुए प्रतिनिधि हैं. अगर हम लोग कोई काम जल्दी से कर सकते हैं, तो जरूर करना चाहिए. मेंगलुरु में मॉनसून के मौसम में बहुत तेज बारिश होती है, इसलिए हम बहुत देर तक इंतजार नहीं कर सकते थे.

जब उनसे पूछा गया कि क्या वो ऐसा फिर करेंगे तो उन्होंने कहा-बिल्कुल. अगर मेरे वार्ड में लोगों को दिक्कत आएगी तो ये मेरी सबसे पहली ड्यूटी है. गौरतलब है कि म नोहर शेट्टी पहली बार कॉरपोरेटर बने हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading