Home /News /nation /

ये फिल्मी नहीं, बल्कि असल VIDEO है; देखें कैसे मेंगलुरु पुलिस ने मोबाइल चोर को चकमा देकर दबोचा

ये फिल्मी नहीं, बल्कि असल VIDEO है; देखें कैसे मेंगलुरु पुलिस ने मोबाइल चोर को चकमा देकर दबोचा

आरोपी का पीछा कर मेंगलुरु के पुलिसकर्मी ने उसे अपने गिरफ्त ले लिया.

आरोपी का पीछा कर मेंगलुरु के पुलिसकर्मी ने उसे अपने गिरफ्त ले लिया.

Mangaluru Cop Chase Mobile Thief: वीडियो में, पुलिसकर्मी को कथित अपराधी का संकरी गलियों में पीछा करते हुए देखा जा सकता है और आखिरकार पुलिसकर्मी को उसे ट्रैक करने में कामयाबी मिली और आरोपी को एक व्यस्त सड़क के बीच में पकड़ लिया. जांच से पता चला है कि आरोपी मेंगलुरु शहर में काम करता था और कई चोरी और डकैतियों में शामिल रहा है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. यदि आप बॉलीवुड और टॉलीवुड फिल्मों के प्रशंसक हैं, तो निश्चित तौर पर आपने कई ऐसे सीक्वेंस देखे होंगे, जिसमें चोर को पकड़ने के लिए पुलिस उसका पीछा कर रही होती है. हालांकि, क्या होगा यदि आप असल जिंदगी में अपने सामने एक पुलिसकर्मी को एक अपराधी का पीछा करते हुए देखें? मंगलुरु के नेहरू मैदान की सड़कों पर लोग गुरुवार दोपहर उस समय बड़े आश्चर्य में थे जब उन्होंने एक पुलिस वाले को एक ऐसे व्यक्ति का पीछा करते देखा जिसने कथित तौर पर एक मोबाइल फोन चुराया था. घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है. इस घटना में तीन अपराधी शामिल थे.

असिस्टेंट रिजर्व सब-इंस्पेक्टर (एआरएसआई) वरुण अल्वा ने नीरमर्ग निवासी 32 वर्षीय आरोपी हरीश पुजारी को पूरे सिनेमाई अंदाज में पीछा कर पकड़ लिया. वीडियो में, पुलिसकर्मी को कथित अपराधी का संकरी गलियों में पीछा करते हुए देखा जा सकता है और आखिरकार पुलिसकर्मी को उसे ट्रैक करने में कामयाबी मिली और आरोपी को एक व्यस्त सड़क के बीच में पकड़ लिया.

Delhi के गाजीपुर में लावारिस बैग में मिला बम, गड्ढे में दबाया तो धमाके के साथ हुआ डिफ्यूज, देखें Exclusive Photo

दरअसल, पुलिस ने नेहरू मैदान के पास एक व्यक्ति को किसी का पीछा करते हुए देखा. पता चला कि तीन लोगों ने पीड़ित प्रेम नारायण योगी जो कि राजस्थान के रहने वाले हैं और एक ग्रेनाइट कर्मचारी हैं, से एक मोबाइल फोन छीन लिया था. इस घटना के संबंध में अट्टावर निवासी 20 वर्षीय शामंत और हरीश पुजारी पुलिस हिरासत में हैं, जबकि राजेश भागने में सफल रहा. शहर के पांडेश्वर थाने में मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस आयुक्त एन शशि के अनुसार विभाग एआरएसआई वरुण अल्वा को पुरस्कृत व सम्मानित करेगा. आरोपियों को पकड़ने के लिए एआरएसआई वरुण अल्वा और टीम के लिए 10,000 रुपये नकद इनाम की घोषणा की गई है. जांच से पता चला है कि आरोपी मेंगलुरु शहर में काम करता था और कई चोरी और डकैतियों में शामिल रहा है.

Tags: Karnataka, Traffic Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर