चक्रवाती तूफान का डटकर सामना कर रहे हैं यहां के जंगल, डाली तो क्या पत्ता भी नहीं हिलता

अम्फान चक्रवात ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में तबाही मचाई थी.

अम्फान चक्रवात ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में तबाही मचाई थी.

तूफान के करीब एक पखवाड़े बाद भितरकनिका के अधिकारियों ने खुशी जताते हुए कहा कि मैन्ग्रोव के जंगल ने तूफान की तेज हवाओं का डटकर मुकाबला किया.

  • Share this:
केंद्रपाड़ा. भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान में मैन्ग्रोव के जंगल ओडिशा (Odisha) के तटीय क्षेत्र में चक्रवाती तूफान अम्फान (Cyclonic storm amphan) के महावेग के आगे डटकर खड़े रहे और उन्होंने उस इलाके की सुरक्षा की. तूफान ने राज्य के तटीय जिलों में जबरदस्त तबाही मचाई लेकिन केंद्रपाड़ा जिले में भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान और आसपास की बस्तियां यहां हरी-भरी और घनी सदाबहार झाड़ियों की वजह से तूफान से बच गए.



तूफान के आगे डटकर खड़े रहे जंगल

तूफान के करीब एक पखवाड़े बाद भितरकनिका के अधिकारियों ने खुशी जताते हुए कहा कि मैन्ग्रोव के जंगल ने तूफान की तेज हवाओं का डटकर मुकाबला किया. राजनगर मैन्ग्रोव (वन्यजीव) वन संभाग के संभागीय वन अधिकारी बिकास रंजन दास ने कहा कि भितरकनिका में मैन्ग्रोव जंगल के घने पेड़ों की वजह से उद्यान के पेड़-पौधे और जीव-जंतुओं को तूफान से कोई नुकसान नहीं हुआ.



1999 में सुरक्षित रह गई थी ये जगह
राष्ट्रीय उद्यान के आसपास के गांवों में भी मैन्ग्रोव के घेरे की वजह से मानव बस्तियां भी सुरक्षित रहीं. यही कारण है कि राष्ट्रीय उद्यान समेत तटीय क्षेत्र पर तूफान का बहुत ज्यादा असर नहीं पड़ा. 1999 में यहां आए चक्रवाती तूफान के समय भी यह इलाका इसी तरह सुरक्षित रहा था. मैन्ग्रोव जंगलों को इन इलाकों में समुद्री ज्वार-भाटे और तूफानों के विरुद्ध जांचा परखा प्राकृतिक अवरोधक माना जाता है.





इन इलाकों के लोगों ने भी इन जंगलों की उपयोगिता को माना है और इस इलाके के संरक्षण के लिए वन विभाग की मदद कर रहे हैं.



अम्फान ने मचाई थी भारी तबाही

गौरतलब है कि बंगाल की खाड़ी से उठे अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में जमकर तबाही मचाई थी. चक्रवात की वजह से 86 लोग मारे गए थे. वहीं लाखों लोग बेघर हो गए थे. अम्फान के बाद ओडिशा के कई इलाकों में व्यवस्थाएं अब भी ठीक नहीं हो पाई है. कई इलाके अब भी बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए जूझ रहे हैं.



ये भी पढ़ेंः-

गणित के फॉर्मूले से सुनाए सात समंदर, तेरे नाम जैसे गाने, देखिए ये मजेदार Video
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज