Home /News /nation /

मणिपुर: कर्नल पर आतंकी हमला सुनियोजित था, 15 आतंकियों ने बनाया था निशाना- सूत्र

मणिपुर: कर्नल पर आतंकी हमला सुनियोजित था, 15 आतंकियों ने बनाया था निशाना- सूत्र

कर्नल के काफिले पर हुआ था हमला. (pic- News18)

कर्नल के काफिले पर हुआ था हमला. (pic- News18)

Manipur Attack: सूत्रों ने कहा है कि आतंकियों ने इस हमले की पूरी साजिश पहले ही रची थी. उनका कहना है कि यह विश्वास करना मुश्किल है कि दो प्रतिबंधित उग्रवादी संगठनों पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) और मणिपुर नगा पीपुल्स फ्रंट (एमएनपीएफ) को काफिले में कर्नल विप्लव त्रिपाठी के बेटे और उनकी पत्‍नी के मौजूद होने की बात नहीं पता थी.

अधिक पढ़ें ...

    इंफाल. मणिपुर (Manipur) में असम राइफल्‍स (Assam Rifles) के कमांडिंग ऑफिसर विप्‍लव त्रिपाठी (Viplav Tripathi) के काफिले पर हुआ आतंकी हमला (Terrorist Attack) पूरी तरह से सुनियोजित था. सूत्रों ने कहा है कि आतंकियों ने इस हमले की पूरी साजिश पहले ही रची थी. उनका कहना है कि यह विश्वास करना मुश्किल है कि दो प्रतिबंधित उग्रवादी संगठनों पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) और मणिपुर नगा पीपुल्स फ्रंट (एमएनपीएफ) को काफिले में कर्नल विप्लव त्रिपाठी के बेटे और उनकी पत्‍नी के मौजूद होने की बात नहीं पता थी.

    सूत्रों ने आगे कहा कि हमले में भारी हथियारों से लैस 15 आतंकवादी शामिल थे और उन्होंने तीन आईईडी विस्फोट किए, जिसके बाद दोनों ओर से भारी गोलीबारी हुई. सूत्रों ने पहले कहा था कि भारतीय सेना म्यांमार सीमा पर कड़ी नजर रख रही है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि हमले में शामिल आतंकवादी कहीं भाग न जाएं.

    असम राइफल्स की खुगा बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर विप्लव त्रिपाठी कर्नल रैंक के अधिकारी थे. उनकी पत्नी, छह साल के बेटे के अलावा अर्धसैनिक बल के चार जवानों की शनिवार की सुबह एक हमले में मृत्‍यु हो गई थी. पीएलए और एमएनपीएफ ने उत्तर-पूर्वी राज्य के चुराचांदपुर जिले के सेहकन गांव में घात लगाकर किए गए हमले की जिम्मेदारी ली है.

    मणिपुर में हुए इस हमले की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निंदा की थी. उन्‍होंने कहा था, ‘मैं उन सैनिकों और परिवार के सदस्यों को श्रद्धांजलि देता हूं जो आज शहीद हुए हैं. उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिवारों के साथ हैं.’

    यह भी पढ़ें: India-Russia S-400 Deal: भारत को जल्द मिलेगा रक्षा कवच, रूस ने शुरू की S-400 मिसाइल सिस्टम की डिलीवरी

    मणिपुर में हुए इस हमले की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निंदा की थी. उन्‍होंने कहा था, ‘मैं उन सैनिकों और परिवार के सदस्यों को श्रद्धांजलि देता हूं जो आज शहीद हुए हैं. उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिवारों के साथ हैं.’

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस घटना पर शोक जताया था. साथ ही उन्‍होंने न्याय का वादा भी किया था. उन्‍होंने कहा था, ‘मणिपुर में असम राइफल्स के काफिले पर कायराना हमला बेहद दर्दनाक और निंदनीय है. देश ने सीओ 46 एआर और परिवार के दो सदस्यों सहित 5 बहादुर सैनिकों को खो दिया है. शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं. दोषियों को जल्द ही सजा दिलवाई जाएगी.’

    मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने कहा कि पूरे इलाके में बड़े स्‍तर पर तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है. उन्‍होंने News18 को बताया कि हमलावर म्यांमार से सीमा पार से आए थे. हम इस हमले का जवाब देंगे. केंद्र के साथ संपर्क स्थापित किया गया है.’

    Tags: Assam Rifles, Manipur, Terrorist attack

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर