मणिपुर में BJP सरकार का संकट टला, अमित शाह से मिले बागी विधायक, कल दे सकते हैं समर्थन

4 एनपीपी विधायकों ने बीजेपी की गठबंधन सरकार से समर्थन वापस ले लिया था.
4 एनपीपी विधायकों ने बीजेपी की गठबंधन सरकार से समर्थन वापस ले लिया था.

Manipur political crisis: नॉर्थ ईस्‍ट में बीजेपी (BJP) के संकटमोचक कहे जाने वाले हेमंत बिस्‍व सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने बताया कि एनपीपी मणिपुर में बीजेपी सरकार को समर्थन जारी रखेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 24, 2020, 10:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. मणिपुर (Manipur) में बीजेपी (BJP) की गठबंधन वाली सरकार पर चल रहे संकट के बीच बुधवार को दिल्‍ली में गृह मंत्री अध्‍यक्ष अमित शाह (Amit Shah) और बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से नेशनल पीपुल्‍स पार्टी (NPP) के बागी विधायकों ने मुलाकात की. उनका नेतृत्‍व पार्टी चीफ और मेघालय के मुख्‍यमंत्री कोनराड संगमा (Conrad Sangma) ने किया. इस दौरान मणिपुर में चल रहे राजनीतिक संकट पर चर्चा की गई. यह जानकारी बीजेपी नेता और नॉर्थ ईस्‍ट डेमोक्रेटिक अलायंस (NEDA) के संयोजक हेमंत बिस्‍व सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने दी.

नॉर्थ ईस्‍ट में बीजेपी के संकटमोचक कहे जाने वाले हेमंत बिस्‍व सरमा ने बताया कि एनपीपी मणिपुर में बीजेपी सरकार को समर्थन जारी रखेगी. हम विकास के लिए साथ मिलकर काम करेंगे. वहीं सूत्रों के मुताबिक अमित शाह से मुलाकात के बाद बीजेपी और एनपीपी के बीच समझौता हो गया है. कहा जा रहा है कि गुरुवार को एनपीपी विधायक राज्‍यपाल से मिलेंगे और सरकार को अपने समर्थन का दावा पेश करेंगे. ऐसे में यह भी कहा जा रहा है कि बीजेपी सरकार से समर्थन वापस लेने वाले एनपीपी के चारों विधायक वापस सरकार में लौट सकते हैं. सूत्रों ने बताया कि इसे लेकर बीजेपी आलाकमान को जानकारी दी गई है.

बता दें कि सरकार से समर्थन वापस लेकर कांग्रेस में शामिल हुए नेशनल पीपुल्‍स पार्टी के 4 विधायकों को चर्चा के लिए दिल्‍ली बुलाया गया था. इससे पहले हेमंत बिस्‍व सरमा ने रविवार को इंफाल पहुंचकर पूरे मामले को समझा था. उनके साथ एनपीपी प्रमुख और मेघालय के मुख्‍यमंत्री कोनराड संगमा भी थे. इस मामले पर हेमंत बिस्‍व सरमा का कहना था कि नॉर्थ ईस्‍ट डेमोक्रेटिक अलायंस और एनडीए के बीच समर्थन जारी रहेगा. हेमंत बिस्‍व सरमा ने कहा था कि मणिपुर के संबंध में घबराने की कोई जरूरत नहीं है. हम सभी विधायकों के साथ विचार विमर्श कर रहे हैं. सभी मुद्दों को मैत्रीपूर्ण ढंग से सुलझा लिया जाएगा.



मणिपुर में बीजेपी की अगुवाई वाली गठबंधन सरकार से उपमुख्यमंत्री वाई जॉय कुमार सिंह, आदिवासी एवं पर्वतीय क्षेत्र विकास मंत्री एन कायिशी, युवा मामलों और खेल मंत्री लेतपाओ हाओकिप और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री एल जयंत कुमार सिंह ने अपने पदों से इस्तीफा दे दिया था. ​एनपीपी से इस्तीफा देने के बाद इन चारों विधायकों ने कांग्रेस को समर्थन देने का भी ऐलान किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज