इरोम शर्मिला ने मदर्स डे पर दिया जुड़वां बच्चियों को जन्म

मणिपुर में सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम (AFSPA) के खिलाफ 16 साल की भूख हड़ताल के लिए दुनिया भर में पहचानी जाने वाली सिविल राइट्स एक्टिविस्ट इरोम शर्मिला ने बेंगलुरु में मदर्स डे पर जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया.

News18Hindi
Updated: May 13, 2019, 8:30 AM IST
इरोम शर्मिला ने मदर्स डे पर दिया जुड़वां बच्चियों को जन्म
इरोम शर्मिला की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: May 13, 2019, 8:30 AM IST
मणिपुर में सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम (AFSPA) के खिलाफ 16 साल की भूख हड़ताल के लिए दुनिया भर में पहचानी जाने वाली सिविल राइट्स एक्टिविस्ट इरोम शर्मिला ने बेंगलुरु में मदर्स डे पर जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया.

46 वर्षीय इरोम 2017 में डेसमंड कॉटिन्हो से शादी करने के बाद कोडाइकनाल में बस गई थीं. उन्होंने रविवार को सुबह 9:21 बजे क्लाउडिन अस्पताल की मल्लेश्वरम शाखा में सी-सेक्शन डिलीवरी के ज़रिए बच्चों को जन्म दिया.

इरोम और गोवा में जन्मे उनके पति ब्रिटिश नेशनल डेसमंड कॉटिन्हो ने अपनी बेटियों का नाम निक्स सखी और शरद तारा रखा है. डिलीवरी के समय बच्चों का वजन क्रमशः 2.16 किलोग्राम और 2.15 किलोग्राम था.

इरोम ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा कि यह एक नया जीवन है और ये मेरे लिए एक नई शुरुआत है. मैं बहुत ख़ुश हूं. बच्चों को लेकर न तो डेसमंड की और न ही मेरी कोई प्राथमिकता थी, हम सिर्फ स्वस्थ बच्चे चाहते थे.

उन्होंने कहा कि मदर्स डे पर बेटियों को जन्म देकर मेरी खुशी दोगुनी हो गई.

ये भी पढ़ें-

प्रियंका चोपड़ा ने प्रेग्नेंसी पर तोड़ी चुप्पी, कही ये बात...
Loading...

तपती धूप में स्कूली बच्चों से उठवाए जूतों के बोरे, वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप
First published: May 13, 2019, 8:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...