होम /न्यूज /राष्ट्र /99th Mann Ki Baat: जानें कौन हैं अबाबत कौर, जिनका PM मोदी ने 'मन की बात' में किया जिक्र, महज 40 दिन की जिंदगी में किया महान काम

99th Mann Ki Baat: जानें कौन हैं अबाबत कौर, जिनका PM मोदी ने 'मन की बात' में किया जिक्र, महज 40 दिन की जिंदगी में किया महान काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में अबाबत कौर का जिक्र किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में अबाबत कौर का जिक्र किया.

99th Mann Ki Baat: मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने सुखबीर सिंह संधू का आभार जताया. साथ ही उन्होंने सुखबीर सिंह संध ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में आर्गन डोनेशन को लेकर बात की. उन्होंने इसको लेकर अमृतसर के सुखबीर सिंह संधू के साथ बातचीत की, जिन्होंने महज 40 दिन की अपनी बेटी अबाबत कौर का ऑर्गन डोनेट किया था. मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने सुखबीर सिंह संधू का आभार जताया. साथ ही उन्होंने सुखबीर सिंह संधू के पूरे परिवार का आभार जताया. पीएम मोदी ने सुखबीर सिंह संधू की जमकर प्रशंसा की.

बता दें कि पंजाब के अमृतसर की 40 दिन की मासूम बच्ची अबाबत कौर संधू ने इस दुनिया को अलविदा कहने से पहले पीजीआई में भर्ती एक-दूसरे मरीज को नई जिंदगी दे गई थी. 28 अक्टूबर को अबाबत कौर पैदा हुई थी. अभी उसे मां का दामन थामे हुए 40 दिन भी नहीं हुआ था कि उसने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. सुखबीर सिंह संधू और सुप्रीत कौर अपनी मासूम बच्ची को इलाज के लिए 25 नवंबर को पीजीआई लेकर आए थे. लेकिन डॉक्टरों ने बताया कि उनकी बच्ची के मस्तिष्क में जो रोग है, उसके चलते बच्ची का जीवित रह पाना मुश्किल है.

यह भी पढ़ेंः Mann Ki Baat LIVE: मन की बात में PM मोदी ने किया अबाबत कौर का जिक्र, बताया मानवता की अमरगाथा की अमरयात्री

ऐसे में मासूम के माता-पिता ने ऑर्गन डोनेट करने का फैसला किया था. अबाबत कौर के दोनों किडनी दान किए गए थे. हालांकि ट्रांसप्लांट के दौरान चिकित्सकों को कठिनाई का सामना करना पड़ा था. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आधुनिक मेडिकल साइंस के इस दौर में ऑर्गन डोनेशन किसी को जीवन देने का एक बहुत बड़ा माध्यम बन चुका है. कहते हैं कि जब एक व्यक्ति मृत्यु के बाद अपना शरीर दान करता है तो उससे 8 से 9 लोगों को एक नया जीवन मिलने की संभावना बनती है.

साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संतोष की बात है कि आज देश में ऑर्गन डोनेशन के प्रति जागरूकता भी बढ़ रही है. साल 2013 में हमारे देश में ऑर्गन डोनेशन के 5 हजार से भी कम केस थे. लेकिन साल 2022 में ये संख्या बढ़कर 15 हजार से ज्यादा हो गई है. ऑर्गन डोनेशन करने वाले व्यक्तियों ने, उनके परिवार ने वाकई, बहुत पुण्य का काम किया है.’

Tags: Mann Ki Baat, PM Modi

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें