कल सवेरे 11 बजे पीएम मोदी करेंगे 'मन की बात'

कल सवेरे 11 बजे पीएम मोदी करेंगे 'मन की बात'
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार सवेरे 11 बजे 'मन की बात' करेंगे (फाइल फोटो)

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने जुलाई महीने के आखिरी रविवार की इस मन की बात (Mann Ki Baat 2.0) के दूसरे चरण की शृंखला में श्रोताओं से सलाह मांगी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 25, 2020, 10:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पीएम मोदी (PM Modi) कल सुबह 11 बजे मन की बात (Mann Ki Baat) करेंगे. 26 जुलाई, दिन रविवार को सुबह 11 बजे पीएम मोदी के 'मन की बात' कार्यक्रम का प्रसारण ऑल इंडिया रेडियो (All India Radio), दूरदर्शन और नरेन्द्र मोदी मोबाइल ऐप (Narendra Modi Mobile App) पर किया जाएगा. इस बात की जानकारी पीएम मोदी ने स्वयं ट्वीट करके दी. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने जुलाई महीने के आखिरी रविवार की इस मन की बात (Mann Ki Baat 2.0) के दूसरे चरण की शृंखला में श्रोताओं से सलाह मांगी थी.

पीएम ने 15 दिन पहले 11 जुलाई को किए एक ट्वीट (Tweet) में कहा था कि जो भी इस मन की बात के लिए कोई सलाह (suggestion) देना चाहते हैं तो विभिन्न माध्यमों से दे सकते हैं. एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा था- 'मुझे यकीन है कि आप इस बारे में जानते होंगे कि कैसे सामूहिक प्रयास प्रेरणादायक बदलाव हुए और कैसे सकारात्मक बदलाव (positive changes) लाए जा सकते हैं. बेशक आप उन पहलुओं से भी परिचित होंगे जिन्होंने लोगों की जिन्दगी में बदलाव किए हैं. कृपया आप उन्हें इस महीने की 26 तारीख को होने वाले मन की बात (Mann Ki Baat) के लिए साझा करें.'


यह भी पढ़ें: ट्वीट पर घिरे राहुल गांधी, योगी ने बताया बचकानी हरकत, रूपाणी बोले- नकलची



जून में मन की बात में चीन पर साधा था निशाना
इससे पहले 28 जून को प्रधानमंत्री ने Mann Ki Baat के जरिए लोगों को संबोधित किया था. उन्होंने मन की बात 13वी कड़ी में चीन समेत विभिन्न विषयों का जिक्र किया था. पीएम मोदी ने मन की बात में कहा था, 'भारत की तरफ आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है. अगर भारत दोस्ती निभाना जानता है तो आंख में आंख डालकर उचित जवाब देना भी जानता है.' पीएम मोदी ने इस दौरान एक संस्कृत श्लोक के जरिये भी चीन पर निशाना साधा. चीन को चेतावनी देते हुए पीएम ने कहा था,

'विद्या विवादाय धनं मदाय, शक्ति: परेषां परिपीडनाय ।
खलस्य साधो: विपरीतम् एतत्, ज्ञानाय दानाय च रक्षणाय ।।'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading