होम /न्यूज /राष्ट्र /Mann Ki Baat: मन की बात में बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- शहीद भगत सिंह के नाम पर होगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम

Mann Ki Baat: मन की बात में बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- शहीद भगत सिंह के नाम पर होगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम

चंडीगाढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रख जाएगा. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

चंडीगाढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रख जाएगा. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Mann Ki Baat: मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीनदयाल उपाध्‍याय के साथ ही नामीबिया से लाए गए चीतों ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी घोषणा
बेंगलुरु की संस्‍था यूथ फॉर परिवर्तन का भी किया उल्‍लेख
नामीबिया से लाए गए चीतों को देखने को लेकर दी बड़ी जानकारी

नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में अहम घोषणा की है. पीएम मोदी ने चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर करने का ऐलान किया है. उन्‍होंने कहा कि लंबे समय से इसकी प्रतीक्षा थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि 25 सितंबर को देश के प्रखर मानवतावादी, चिंतक और महान सपूत दीनदयाल उपाध्‍याय का जन्‍मदिन मनाया जाता है. किसी भी देश के युववा जैसे-जैसे अपनी पहचान और गौरव पर गर्व करते हैं, उन्‍हें मौलिक विचार और दर्शन उतने ही आकर्षित करते हैं. उन्‍होंने कहा कि दीनदयाल उपाध्‍याय के विचारों की सबसे बड़ी खूबी यही रही है कि उन्‍होंने अपने जीवन में विश्‍व के बड़े उथल-पुथल को देखा था. वह विचारधाराओं के संघर्षों के साक्षी बने थे. इस मौके पर उन्‍होंने इंडियन साइन लैंग्‍वेज रिसर्च एंड ट्रेनिंग सेंटर का भी उल्‍लेख किया, जिसकी स्‍थापना वर्ष 2015 में की गई थी. साथ ही पीएम ने हाल में में नामीबिया से लाए गए चीतों का भी उल्‍लेख किया.

मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नामीबिया से लाए गए चीतों पर भी चर्चा की. उन्‍होंने बताया कि चीतों पर बात करने के लिए उन्‍हें ढेर सारे संदेश मिले. पीएम ने कहा कि भारत में चीतों की वापसी पर देश के कोने-कोने से लोगों ने खुशी जताई है. 130 करोड़ भारतवासी खुश हैं और गर्व से भरे हैं. यह है भारत का प्रकृति प्रेम. पीएम मोदी ने कहा, ‘लोगों का एक कॉमन सवाल यही है कि मोदी जी हमें चीतों को देखने का अवसर कब मिलेगा? मैं आप सबको कुछ काम सौंप रहा हूं… इसके लिए माईगॉव के प्‍लेटफॉर्म पर एक प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी, जिसमें लोगों से मैं कुछ चीजें साझा करने का आग्रह करता हूं. चीतों को लेकर हम जो अभियान चला रहे हैं, उस अभियान का नाम क्‍या होना चाहिए? क्‍या हम इन सभी चीतों के नामकरण के बारे में सोच सकते हैं? इनमें से हर किसी को किस नाम से बुलाया जाए? इनके नाम यदि पारंपरिक हों तो अच्‍छा रहेगा. जानवरों के साथ इंसानों को कैसा व्‍यवहार करना चाहिए.’  आखिर में उन्‍होंने कहा कि क्‍या पता प्रतियोगिता जीतने के इनाम के तौर पर चीता देखने का मौका आपको ही मिल जाए!

भगत सिंह के नाम पर एयरपोर्ट
प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने बताया कि अमृत महोत्‍सव के दौरान 28 सितंबर को एक विशेष दिन आ रहा है. इस दिन हम भारत मां के वीर सपूत भगत सिंह की जयंती मनाएंगे. इससे ठीक पहले श्रद्धांजलि स्‍वरूप एक महत्‍वपूर्ण निर्णय लिया गया है. उन्‍होंने बताया कि चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह पर करना तय किया गया है. शहीदों के स्मारक, उनके नाम पर स्थानों और संस्थानों के नाम हमें कर्तव्य के लिए प्रेरणा देते हैं. उन्‍होंने बताया कि अभी कुछ दिन पहले ही देश ने कर्तव्यपथ पर नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की मूर्ति की स्थापना के ज़रिये भी ऐसा ही एक प्रयास किया. शहीद भगत सिंह के नाम पर चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम इस दिशा में एक और कदम है.

यूथ फॉर परिवर्तन का उल्‍लेख
पीएम मोदी ने अपने विशेष रेडियो प्रोग्राम मन की बात में बेंगलुरु की टीम यूथ फॉर परिवर्तन का भी उल्‍लेख किया. उन्‍होंने कहा, ‘बेंगलुरु में यूथ फॉर परिवर्तन नाम की एक टीम है. पिछले 8 वर्षों से यह टीम स्‍वच्‍छता और दूसरी सामुदायिक गतिविधियों को लेकर काम कर रही है. उनका ध्‍येय बिल्‍कुल स्‍पष्‍ट है- स्‍टॉप कम्‍प्‍लेनिंग, स्‍टार्ट एक्टिंग. इस टीम ने अब तक शहरभर की 370 से ज्यादा जगहों का सौंदर्यीकरण किया है. हर स्‍थान पर 100 से 150 लोगों को जोड़ा गया है. प्रत्‍येक रविवार को यह कार्यक्रम सुबह से शुरू होता है और दोपहर तक चलता है. इसके तहत कचरा तो हटाया ही जाता है, दीवारों पर पेंटिंग्‍स भी बनाई जाती हैं.’

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें