मनोहर पर्रिकर की हालत बेहद नाज़ुक, एयर एंबुलेंस से गोवा वापस लाए गए

पर्रिकर 15 सितंबर से दिल्ली एम्स में भर्ती थे. इससे पहले भी वह इलाज के लिए अमेरिका गए थे. उनके लंबे समय से बीमार होने के चलते गोवा का कामकाज सुचारू रूप से नहीं चल रहा है.

News18Hindi
Updated: October 14, 2018, 6:37 PM IST
मनोहर पर्रिकर की हालत बेहद नाज़ुक, एयर एंबुलेंस से गोवा वापस लाए गए
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: October 14, 2018, 6:37 PM IST
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर रविवार दोपहर को नई दिल्ली से अपने गृहराज्य गोवा लौट आए. पर्रिकर का दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में पैन्क्रियाज़ (अग्नाश्य) संबंधी बीमारी का इलाज चल रहा था. बताया जा रहा है कि आज सुबह उनकी तबीयत बिगड़ गई, जिसके बाद उन्हें आईसीयू में शिफ्ट किया गया. इसके बाद पर्रिकर को एयर एंबुलेंस के जरिए गोवा ले जाया गया है. उनकी स्थिति नाजुक बताई जा रही है.

पर्रिकर एक विशेष विमान से यहां पहुंचे. फिर उन्हें एम्बुलेंस से डोना पॉला में उनके निजी निवास पर ले जाया गया. उनका विमान यहां डाबोलिम एयरपोर्ट पर 2 बजकर 35 मिनट पर पहुंचा.

मनोहर पर्रिकर को रविवार सुबह एम्स से छुट्टी मिल गई थी. एम्स के सूत्रों के अनुसार, सुबह में स्थिति बिगड़ने पर उन्हें कुछ देर के लिए आईसीयू ले जाया गया था. बाद में अस्पताल प्रशासन ने उन्हें छुट्टी देने का फैसला लिया. पर्रिकर को 15 सितंबर को एम्स में भर्ती कराया गया था.


Loading...
सरकारी गोवा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल ने मुख्यमंत्री के निजी निवास पर व्यापक इंतजाम किया हैं. उनकी सेहत की देखभाल के लिए डॉक्टरों की एक टीम तैयार की गई है.

पर्रिकर ने यह सुनिश्चित करने के लिए शुक्रवार को पार्टी की गोवा यूनिट की कोर समिति के सदस्यों और गठबंधन के सहयोगी दलों के मंत्रियों के साथ एम्स में बैठक की थी कि खराब स्वास्थ्य के कारण उनकी अनुपस्थिति के दौरान सरकार सामान्य रूप से चलती रहे.

पर्रिकर इससे पहले भी वह इलाज के लिए अमेरिका गए थे. उनके लंबे समय से बीमार होने के चलते गोवा का कामकाज सुचारू रूप से नहीं चल रहा है. कांग्रेस लगातार पर्रिकर के इस्तीफे की मांग कर रही है. शनिवार को कांग्रेस ने सीएम को फ्लोर टेस्ट की चुनौती दी थी.

इससे पहले मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी ने जानकारी दी थी, 'मुख्यमंत्री को एक विशेष विमान से रविवार को गोवा लाया जा सकता है. अस्पताल में उनका इलाज कर रहे डॉक्टर रविवार की सुबह प्रमाणित करेंगे कि वह घर लौटने के लिए स्वस्थ हैं या नहीं.' उन्होंने बताया कि अगर पर्रिकर गोवा लौटते हैं तो वह पणजी स्थित अपने निजी आवास में ही रहेंगे.

खराब सेहत के चलते मुख्यमंत्री कार्यालय में अनुपस्थिति के दौरान सरकार के सुचारू रूप से काम करने के तरीकों पर चर्चा के लिए शुक्रवार को पर्रिकर ने भाजपा की गोवा इकाई की कोर कमेटी के सदस्यों एवं गठबंधन सहयोगी दलों के मंत्रियों से एम्स में मुलाकात की थी. उन्होंने लंबित विकास कार्यों की भी समीक्षा की और अपने कुछ विभागों का कार्यभार मंत्रिमंडल के कुछ साथियों को बांटे जाने पर चर्चा की.

ये भी पढ़ें: यदि गोवा सरकार गिरती है तो मिड-टर्म इलेक्शन के लिए तैयार: एमजीपी

हालांकि पर्रिकर से अलग मुलाकात करने वाले सत्तारूढ़ भाजपा एवं उसकी सहयोगी पार्टी के नेताओं ने राज्य के नेतृत्व में किसी भी तरह के बदलाव से इनकार किया है. पर्रिकर फरवरी के मध्य से ही बीमार हैं और उनका गोवा, मुंबई एवं अमेरिका के अस्पतालों समेत कई अलग-अलग अस्पतालों में इलाज हुआ है.

(इनपुट भाषा से)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर