लाइव टीवी

'हालचाल लेने के बहाने निम्न स्तर की राजनीति से आहत हूं', भावुक कर देगी राहुल के नाम पर्रिकर की चिट्ठी

News18Hindi
Updated: January 30, 2019, 11:05 PM IST
'हालचाल लेने के बहाने निम्न स्तर की राजनीति से आहत हूं', भावुक कर देगी राहुल के नाम पर्रिकर की चिट्ठी
मनोहर पर्रिकर (PTI)

पर्रिकर ने लिखा- शिष्टाचार भेंट के बहाने मेरे घर आकर, फिर इतने निम्न स्तर का झूठ आधारित राजनीतिक बयान देना, आपके मेरे घर आने के उद्देशों एंव इरादों को उजागर करता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2019, 11:05 PM IST
  • Share this:
कैंसर से जूझ रहे गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने दावा किया था कि पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर को राफेल की नई डील के बारे में कोई जानकारी नहीं थी. लेकिन पर्रिकर ने राहुल के इन दावों को झूठा करार दिया है. उन्होंने बुधवार को राहुल गांधी को एक चिट्ठी लिखी. इस चिट्ठी को पढ़कर आप भी भावुक हो जाएंगे.

पढ़ें, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नाम गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर की चिट्ठी:-

प्रिय श्री राहुल गांधी,

कल यानी 29 जवनरी 2019 को बिना किसी पूर्व सूचना के आप मेरे स्वास्थ्य का हाल पूछने मेरे यहां आए थे. दलगत भावना से ऊपर उठकर एक अस्वस्थ व्यक्ति का हाल जानना एवं उसके उत्तम स्वास्थ्य की कामना करना, राजनीतिक एवं सार्वजनिक जीवन की अच्छी परंपरा है. अत: मुझे भी आपका मेरा हाल जानने के लिए कार्यालय आना अच्छा लगा. आपके आने पर मैंने आपका स्वागत मेरे स्वास्थ्य एवं बीमारी के प्रति आपकी अच्छी भावना के संदर्भ में किया.

राहुल के आरोपों पर पर्रिकर का पलटवार, कहा- 'वो झूठ बोल रहे, राफेल पर नहीं हुई कोई बात'

लेकिन आज सुबह समाचपत्रों में जिस ढंग से आपके 'विजिट' को लेकर बयान प्रकाशित हुए हैं, उन्हें पढ़कर मुझे आश्चर्य भी हुआ और मैं आहत भी हूं. आपको कोट करते हुए समाचर पत्रों में प्रकाशित है कि आपने कहा है कि 'बातचीत में मैंने आपको बताया है कि राफेल प्रॉसेस में मैं कहीं नहीं था या मुझे कोई जानकारी नहीं थी.'

मेरे लिए ये अत्यंत निराशाजनक और आहत करने वाली बात है कि मेरे स्वास्थ्य का हाल जानने के बहाने आपने अपने निम्न स्तरीय राजनीतिक हितों को साधने का कार्य किया है. इसकी मैं कल्पना भी नहीं कर पा रहा.
आपसे 5 मिनट की हमारी भेंट में ना तो 'राफेल' का जिक्र हुआ और ना ही मैंने राफेल संबंधी कोई चर्चा की. इस तरह की कोई बात मेरी और आपके बीच न तो हाल की मीटिंग में हुई थी और न ही पहले कभी हुई.

पर्रिकर के बाद अमित शाह ने भी कहा- बीमार आदमी के नाम पर झूठ बोल रहे हैं राहुल गांधी

मैंने पहले भी कई बार स्पष्ट किया है और इस पत्र के माध्यम से फिर कह रहा हूं कि राफेल सौदा इंटर गवर्नमेंट एग्रिमेंट (IGA) और डिफेंस प्रोक्यूअरमेंट प्रॉसिजर के नियमों के तहत हुआ है. इसमें दूर-दूर तक कोई गड़बड़ी नहीं हुई है. यह पूरी खरीद प्रक्रिया राष्ट्रीय सुरक्षा की प्राथमिकताओं के आधार पर तय नियामकों के तहत हुई है.

शिष्टाचार भेंट के बहाने मेरे घर आकर, फिर इतने निम्न स्तर का झूठ आधारित राजनीतिक बयान देना, आपके मेरे घर आने के उद्देशों एवं इरादों को उजागर करता है. आपके मेरे घर आने पर यह एक बड़ा प्रश्नचिन्ह और संदेह का घेरा भी है.


जैसा कि सभी जानते हैं, इन दिनों मैं बीमारी में अपने जीवन के अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा हूं. फिर भी अपने पूर्व के अनुशासनपूर्ण जीवन एवं वैचारिक शक्ति के माध्यम से गोवा की जनता की सेवा में निरंतर लगा हूं और लगा रहूंगा. मैंने सोचा था कि आपका आना और आपकी शुभकामनाएं मेरे लिए इस प्रतिकूल स्थिति में संबल प्रदान करेंगी, लेकिन मैं नहीं समझ सका कि आपके आने का वास्तविक इरादा ये था.



घोर निराशा के साथ मुझे आपको लिखना पड़ रहा है कि आप सच को स्वीकारिए और सामने लाइए. साथ ही ये निवेदन भी करूंगा किसी बीमार और अस्वस्थ व्यक्ति को अवसरवादी राजनीति का शिकार बनाने की नीयत मत रखिए. मैं सदैव गोवा की जनता की सेवा में तत्पर हूं.

सादर
मनोहर पर्रिकर

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2019, 6:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर