क्या भारत हिंदू राष्ट्र है? सोशल मीडिया पर हुए सर्वे में सामने आए चौंकाने वाले आंकड़े

मंगलवार को जारी हुए CSDS की रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वाले 19 फीसदी लोग मानते हैं कि भारत केवल हिंदुओं का है. जबकि सोशल मीडिया इस्तेमाल नहीं करने वाले 17 फीसदी लोग भी ऐसी सोच रखते हैं. उनके मुताबिक, भारत में हिंदुत्व का प्रभाव बढ़ा है.

News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 4:40 PM IST
क्या भारत हिंदू राष्ट्र है? सोशल मीडिया पर हुए सर्वे में सामने आए चौंकाने वाले आंकड़े
क्या भारत सिर्फ हिंदुओं का देश बनता जा रहा है? CSDS के आंकड़ों ने चौंकाया
News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 4:40 PM IST
(फाज़िल खान)

क्या भारत सिर्फ हिंदुओं के लिए है? ये सवाल इसलिए, क्योंकि एक स्टडी में चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं. सेंटर ऑफ स्टडीज़ ऑफ डेवलपिंग सोसाइटीज़ (CSDS) ने सोशल मीडिया और न्यू मीडिया को लेकर एक ताजा स्टडी की है. इसमें सामने आया है कि सोशल मीडिया पर ऐसे लोग भरे पड़े हैं, जो मानते हैं कि भारत एक हिंदू राष्ट्र है. 14 से 17 फीसदी लोग ऐसे विचार रखते हैं. इस स्टडी में फेसबुक, वॉट्सऐप, ट्विटर और इंस्टाग्राम यूजर्स को शामिल किया है.



CSDS ने अपनी स्टडी में 5 साल के आंकड़े लिए हैं. इस स्टडी में कभी-कभी, साप्ताहिक और रोजाना सोशल मीडिया से जुड़े लोगों की राय ली गई है. इसके अलावा जो सोशल मीडिया का इस्तेमाल नहीं करते, उनकी भी राय ली गई. इसमें कुल सैंपल के तीन-चौथाई यानी करीब 73 फीसदी लोगों का मानना है कि भारत में सभी धर्म समान है, जबकि बाकी लोग इससे इत्तेफाक नहीं रखते. कभी-कभी सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वाले अधिकतर लोग भारत को एक हिंदू राष्ट्र के रूप में मानते हैं.

इंदौर: 'जन-गण-मन' को बीच में रोक 'वंदे मातरम्' गाने पर विवाद

लोगों ने माना- देश में बढ़ा हिंदुत्व का प्रभाव
मंगलवार को जारी हुए CSDS की रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वाले 19 फीसदी लोग मानते हैं कि भारत केवल हिंदुओं का है. जबकि सोशल मीडिया इस्तेमाल नहीं करने वाले 17 फीसदी लोग भी ऐसी सोच रखते हैं. उनके मुताबिक, भारत में हिंदुत्व का प्रभाव बढ़ा है.


Loading...

73 फीसदी लोग मानते हैं भारत एक लोकतांत्रिक देश
इसी तरह 73 फीसदी नॉन सोशल मीडिया यूजर्स का मानना है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है. यहां सभी धर्म एक समान हैं. जबकि, फेसबुक और ट्विटर पर एक्टिव 75 फीसदी लोग भी ऐसी ही सोच रखते हैं.

रिपोर्ट में लिखा है, 'सोशल मीडिया से आपकी सोच काफी हद तक प्रभावित होती है. ये शायद आपको एक स्पेस देता है, जहां आप खुद को जाहिर कर सकते हैं और अपने धार्मिक विचार साझा कर सकते हैं.'




मुस्लिम ज्यादा राष्ट्रवादी
स्टडी में ज्यादातर सोशल मीडिया यूजर्स हिंदू वोटर्स का मानना है कि मुसलमान ज्यादा राष्ट्रवादी होते हैं. वहीं, फेसबुक-ट्विटर का कभी-कभी इस्तेमाल करने वाले कुछ लोग मुसलमानों को राष्ट्रवादी नहीं मानते.

कब हुई स्टडी?
CSDS ने ये स्टडी अप्रैल से मई के बीच में की. 26 राज्यों के कुल 211 संसदीय क्षेत्रों में फील्डवर्क सर्वे किया गया. इसके तहत कुल 24, 236 वोटर्स का इंटरव्यू लिया गया.

शिवराज सिंह चौहान का क़द बढ़ा, टीम अमित शाह में मिली नई ज़िम्मेदारी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...