पिज्जा की तरह करते थे गांजे की होम डिलीवरी, कोडवर्ड होता था दिल्ली की सड़क का नाम

सिर्फ एक मैसेज या मोबाइल कॉल से गांजे की डिलीवरी भी हो सकती है. वो भी मनचाही जगह पर. हां, ऐसा मुमकिन है. शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह को पकड़ा है.

नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 9:29 AM IST
पिज्जा की तरह करते थे गांजे की होम डिलीवरी, कोडवर्ड होता था दिल्ली की सड़क का नाम
प्रतीकात्मक फोटो.
नासिर हुसैन
नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 9:29 AM IST
एक फोन कॉल या मेल से पिज्जा कैसे हमारे घर के दरवाजे तक पहुंच जाता है ये तो हम सब अच्छी तरह से जानते हैं. लेकिन क्या सिर्फ एक मैसेज या मोबाइल कॉल से गांजे की डिलीवरी भी हो सकती है.  वो भी मनचाही जगह पर. हां, ऐसा मुमकिन है.

शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह को पकड़ा है. ये गिरोह अपने ग्राहकों को गांजे की होम डिलीवरी देता था. अगर आपको किसी पार्क, होटल-रेस्टोरेंट या सिनेमा हाल में चाहिए तो वहां भी डिलीवरी दी जाती थी.

रोहित शेखर के इस इंकार से हुई हत्या, मां बोली मान लेता तो आज जिंदा होता

जरूरत होती थी आपके एक फोन या मैसेज करने की. फोन को कहीं पुलिस ट्रेस न कर रही हो इसलिए गिरोह ने व्हाट्सअप पर भी गांजे का आर्डर लेना शुरु कर दिया था. सूत्र बताते हैं कि आर्डर देने के लिए एक कोडवर्ड बताना होता था. अगर आप मैसेज कर रहे हैं तो मैसेज में कोड लिखना होता था. ये कोड हर 15 दिन बाद बदल दिया जाता था. कोड हमेशा दिल्ली की सड़कों के नाम पर होता था.

अगर आपके बैंक खाते में ऐसे हुआ है ऑनलाइन फ्रॉड, तो वापस मिलेगी पूरी रकम

गांजे के इस नेटवर्क को चलाने के लिए गिरोह के सरगना ने न्यू उस्मानपुर में बकायदा एक ऑफिस और गोदमा बनाया हुआ है. आर्डर लेने के लिए ऑफिस में एक मैनेजर भी बैठा हुआ है. गांजे की डिलीवरी के लिए लड़के रखे हुए हैं.

डिलीवरी बॉय को एक दिन में 500 से 800 रुपये दिए जाते थे. बहार से आने वाली गांजे की खेप को रखने के लिए ऑफिस के पास ही गोदाम बनाया हुआ है. गांजे की खेप ट्रेन के रास्ते दिल्ली लाई जाती है. पुलिस ने फिलहाल इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.
Loading...

ये भी पढ़ें- OLX पर ये गिरोह ऐसे कर रहा है ठगी, भूले से भी न करें ये 5 काम

रोहित शेखर मर्डर केस में ट्विस्ट, पत्नी अपूर्वा के एक बयान से धरे रह गए पुलिस-CBI के सुबूत!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 27, 2019, 9:29 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...