Home /News /nation /

मसूद अजहर के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र का रूख करेगा भारत

मसूद अजहर के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र का रूख करेगा भारत

पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की ओर से प्रतिबंधित कराने के पहले के प्रयास में चीन के अवरोध पैदा करने के बाद भारत ने गुरुवार को कहा कि वह अपनी मांग को लेकर फिर से इस विश्व निकाय का रुख करेगा।

पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की ओर से प्रतिबंधित कराने के पहले के प्रयास में चीन के अवरोध पैदा करने के बाद भारत ने गुरुवार को कहा कि वह अपनी मांग को लेकर फिर से इस विश्व निकाय का रुख करेगा।

पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की ओर से प्रतिबंधित कराने के पहले के प्रयास में चीन के अवरोध पैदा करने के बाद भारत ने गुरुवार को कहा कि वह अपनी मांग को लेकर फिर से इस विश्व निकाय का रुख करेगा।

    नई दिल्ली। पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की ओर से प्रतिबंधित कराने के पहले के प्रयास में चीन के अवरोध पैदा करने के बाद भारत ने गुरुवार को कहा कि वह अपनी मांग को लेकर फिर से इस विश्व निकाय का रुख करेगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने यहां कहा कि हम 1267 प्रतिबंध समिति का रुख करेंगे ताकि प्रतिबंध की सूची में मसूद अजहर का नाम शामिल किया जाए। यह बहुत बड़ी विसंगति है कि जैश-ए-मोहम्मद इस सूची में है लेकिन इसका नेता नहीं है।

    उन्होंने यह भी कहा कि भारत पहले ही संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबंध समिति को उन 11 आतंकवादियों की ताजा सूची सौंप चुका है जिसमें अलकायदा, तालिबान और दूसरे संगठनों से संबंधित पाकिस्तान आधारित समूह के आतंकी शामिल हैं।

    भारत में आतंकवाद से जुड़े 11 व्यक्तियों और एक संगठन की सूची बीते 18 फरवरी को 1267, 1989, 2253 आईएसआईल (दाएश) एवं अलकायदा प्रतिबंध समिति को सौंपी गई। संयुक्त राष्ट्र ने 2001 में जैश ए मोहम्मद को प्रतिबंधित किया था, लेकिन अजहर को प्रतिबंधित कराने के भारत के प्रयास को सफलता नहीं मिल पाई क्योंकि सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्य देशों में से एक चीन ने इस प्रतिबंध की स्वीकृति नहीं दी।

    Tags: India, Masood Azhar, Pathankot attack

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर