10 वीं के बाद गणित दिलाएगा कई क्षेत्रों में नौकरी

10 वीं के बाद गणित दिलाएगा कई क्षेत्रों में नौकरी
Demo Image

आइए जानते हैं डाक्टर हरेन्द्र चौहान, गणितज्ञ शारदा यूनिवर्सिटी, नोएडा के शब्दों में कि कैसे सिर्फ एक विषय गणित को पढ़कर कई क्षेत्रों में भविष्य की संभावनाओं को तलाशा जा सकता है.

  • Share this:
अगर ये कहा जाए कि गणित के बिना किसी भी वैज्ञानिक की खोज पूरी ही नहीं हो सकती है, तो ये कहना गलत नहीं होगा. खगोल विज्ञान, कैमेस्ट्री, फिजिक्स तो सीधे तौर पर और सामाजिक विज्ञान, अर्थशास्त्र, सांख्यिकी और इंजीनियरिंग आदि गणित की ही कई शाखाओं पर निर्भर हैं.

तो आइए जानते हैं डाक्टर हरेन्द्र चौहान, गणितज्ञ शारदा यूनिवर्सिटी, नोएडा के शब्दों में कि कैसे सिर्फ एक विषय गणित को पढ़कर कई क्षेत्रों में भविष्य की संभावनाओं को तलाशा जा सकता है.

सॉफ्टवेयर इंजीनियर- भारतीय सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की न सिर्फ देश में बल्कि विदेशभर में डिमांड है. विश्व की आईटी इंडस्ट्री में भारतीय सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की बड़ी डिमांड रहती है. सॉफ्टवेयर इंजीनियर सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल और उनकी प्रणाली का अविष्कार, परीक्षण, विश्लेषण और मूल्यांकन करने के लिए कंप्यूटर विज्ञान और गणितीय विश्लेषण के सिद्धांतों को लागू करते हैं.



बैंकिंग- वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के चलते बैंक तेजी से अपनी शाखाएं बढ़ा रहे हैं. जिससे इस क्षेत्र में रोजगार के हजारों नए अवसर निर्मित हो रहे हैं. गणित में जानकारी रखने वाले युवा बैंकिंग के विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर सकते हैं.
चार्टर्ड अकाउंटेंट- उदारीकरण के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था के तेजी से विकास के चलते अकाउंट्स और फाइनेंस के क्षेत्र में करियर ने खूब लोकप्रियता हासिल की है. इस क्षेत्र में चार्टर्ड अकाउंटेंट का एक खासा प्रतिष्ठित करियर वाला विकल्प है. गणित और कॉमर्स में रुचि रखने वाले युवा इस क्षेत्र में अच्छा करियर बना सकते हैं.

टीचिंग- देश में गणित के टीचरों की डिमांड कल भी थी और आज भी है और भविष्य में भी रहेगी. पूरी स्कूली शिक्षा के दौरान गणित एक महत्वपूर्ण विषय होता है. यदि आप में नम्बरों के प्रति आकर्षण है और पढ़ने-पढ़ाने के काम में आपकी रूचि है तो टीचिंग के क्षेत्र में आकर भी भारी-भरकम वेतन पा सकते हैं.

कंप्यूटर सिस्टम्स एनालिस्ट- कंप्यूटर सिस्टम्स एनालिस्ट के लिए सॉफ्टवेयर, अनुसंधान, शिखा, सिक्यूरिटी, बैंकिंग, अर्थशास्त्र, इंजीनियरिंग, कंप्यूटर विज्ञान, भौतिकी और तकनीकी शाखाओं आदि में रोजगार के बहुत सारे अवसर हैं. ज्यादातर सिस्टम्स एनालिस्ट लागत, लाभ और निवेश पर भुगतान का विश्लेषण तैयार करने के लिए विशिष्ट प्रकार की कंप्यूटर प्रणालियों पर कार्य करते हैं और मैनेजरों को ये निर्णय लेने में सहायता करते हैं कि प्रस्तावित टेक्नोलॉजी वित्तीय द्रष्टि से कारगर होगी या नहीं.

गणितज्ञ- गणितज्ञों को गणित का अध्ययन और अनुसंधान करना होता है. ये लोग गणित के अनुसलझे रहस्यों को उजागर करने की कोशिश करते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading