लाइव टीवी

गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाने पर सरकारी सूत्र बोले- 'मामला खत्म हो चुका, कांग्रेस पूछती रहे सवाल'

News18Hindi
Updated: November 20, 2019, 5:12 PM IST
गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाने पर सरकारी सूत्र बोले- 'मामला खत्म हो चुका, कांग्रेस पूछती रहे सवाल'
सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और रॉबर्ट वाड्रा पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को उनकी जयंती पर वीर भूमि, नई दिल्ली पर श्रृद्धांजलि देने जाते हुए (फोटो क्रेडिट- PTI)

सबसे महत्वपूर्ण लोगों को दी जाने वाली SPG सुरक्षा सोनिया गांधी (Sonia Gandhi), उनके बेटे राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और उनकी बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा को मिली हुई थी. जिसे 28 साल तक लगातार इन्हें मिले रहने के बाद हटा लिया गया था. इसके बाद से गांधी परिवार को CRPF की 'जेड-प्लस' (Z+) सुरक्षा मिली हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2019, 5:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार (Government) ने कहा है कि वह अपने गांधी परिवार (Gandhi Family) की SPG सुरक्षा वापस लेने के निर्णय को वापस नहीं लेने जा रही है चाहे कांग्रेस (Congress) इस मुद्दे को संसद (Parliament) में ले जाए या बाहर इसे लेकर विरोध करे.

गृह मंत्रालय (Home Ministry) के खास सूत्रों ने बताया कि सरकार की ओर से इस मुद्दे पर किसी जवाब का कोई मसला ही नहीं है. सूत्रों ने कहा, "यह मामला खत्म हो चुका है... कांग्रेस (Congress) चाहे तो सवाल पूछती रह सकती है."

28 सालों से मिली हुई थी SPG सुरक्षा
SPG की खास सुरक्षा सोनिया गांधी (Sonia Gandhi), उनके बेटे राहुल गांधी और उनकी बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा को मिली हुई थी. उन्हें यह विशेष सुरक्षा पिछले 28 सालों से लगातार मिली हुई थी. जिसे हाल ही में CRPF की जेड-प्लस सुरक्षा से बदल दिया गया है.

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) के दी गई SPG सुरक्षा वापस लिए जाने का यह फैसला लंबे समय तक चले आकलन के बाद ही लिया गया है. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या लिट्टे के आतंकियों ने 21 मई, 1991 को कर दी थी.

कांग्रेस ने लगाए थे बदले और घृणा के आरोप
कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि SPG सुरक्षा हटाकर सरकार सोनिया गांधी, उनके बेटे राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और उनकी बेटी प्रियंका गांधी की जान को खतरे में डाल रही है. साथ ही कांग्रेस ने यह भी कहा था कि यह निर्णय दिखाता है कि बीजेपी सरकार "व्यक्तिगत घृणा और राजनीतिक बदले के चलते अंधी हो चुकी है."
Loading...

इस पर प्रहार कर करते हुए कांग्रेस ने बीजेपी सरकार (BJP Government) को यह भी याद दिलाया था कि वो अटल बिहारी वाजपेयी थे, जिन्होंने कानून में बदलाव करते हुए गांधी परिवार को SPG सुरक्षा दिलाई थी. राज्य सभा में इसके बारे में बात करते हुए कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा था कि राजनीति को नेताओं की सुरक्षा से अलग रखा जाना चाहिए. जिसके जवाब में केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा  ने इसके किसी भी तरह के राजनीति से प्रेरित होने की भावना से इंकार किया था.

यह भी पढ़ें: PM मोदी से मिले NCP प्रमुख शरद पवार, कांग्रेस हुई नाराज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 5:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...