आज का मौसम, 17 जून: दिल्ली, यूपी समेत देश के कई हिस्सों में हो सकती है बारिश

कुछ राज्‍यों में बारिश संभव. (File pic)

Aaj Ka Mausam,17 June 2021: भारत मौसम विभाग (IMD) के अनुसार गुरुवार को देश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश तक हो सकती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत मौसम विभाग (IMD) के अनुसार गुरुवार को देश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश तक हो सकती है. मौसम विभाग ने पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, यूपी, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, कोंकण और गोवा, तटीय कर्नाटक में बारिश के आसार जाहिर किए हैं. इसके साथ ही विभाग ने दक्षिण पश्चिम दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली और एनसीआर (गुरुग्राम, मानेसर, फरीदाबाद, बल्लभगढ़) सोहाना (हरियाणा) के अलग-अलग स्थानों पर और आसपास के क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है.

    उधर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हल्की बारिश होने के अनुमान के बीच दिल्लीवासियों को मानसून की बारिश के लिए अभी सात से 10 दिन और इंतजार करना पड़ेगा. आईएमडी के अधिकारियों ने बताया कि पछुआ हवाओं के कारण उत्तर-पश्चिम भारत में मानसून के पहुंचने की गति प्रभावित हुई है.

    आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केन्द्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, ' मध्य-अक्षांश पछुआ हवाओं के प्रतिकूल प्रभाव के कारण... उत्तर-पश्चिम भारत के शेष हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के पहुंचने में देरी हो सकती है. स्थिति पर हम लगातार नजर बनाए हुए हैं और नियमित रूप से अपडेट मुहैया कराई जाएगी. मानसून आने में शायद सात से 10 दिन की देरी हो सकती है.' आईएमडी ने पहले, समय से 12 दिन पूर्व 15 जून को मानसून दिल्ली पहुंचने का अनुमान लगाया था. आम तौर पर दिल्ली में मानसून 27 जून तक पहुंचता है और आठ जुलाई तक पूरे देश में मानसून पहुंच जाता है.

    मुंबई में फिर शुरु हुई बारिश
    उधर तीन दिन के विराम के बाद मुंबई और उसके उपनगरों में बुधवार को तड़के बारिश फिर शुरू हो गयी. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शहर और उसके उपनगरों में मध्यम बारिश या गरज के साथ छीटें पड़ने का अनुमान जताया है. कुछ स्थानों पर भारी बारिश की भी संभावना है.

    बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने कहा कि मुंबई, उसके पश्चिमी उपनगरों और पूर्वी उपनगरों में बुधवार को सुबह आठ बजे तक पिछले 24 घंटों में क्रमश: 28.55 मिलीमीटर, 19 मिमी. और 17.52 मिमी. बारिश हुई. एक अधिकारी ने बताया, 'शहर और उपनगरों में सुबह से लगातार बारिश होने के बावजूद किसी भी निचले इलाके से भारी जलभराव की कोई खबर नहीं है.

    बिहार: गंडक के डूब क्षेत्र में बाढ़ जैसे हालात
    बिहार के कई जिलों में बुधवार को गंडक नदी के जलस्तर में अचानक वृद्धि के कारण बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गयी है, जिसके कारण लोग सुरक्षित ठिकानों पर शरण लेने को विवश हुए हैं. राज्य का पश्चिमी चंपारण जिला इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है. पश्चिम चम्पारण के जिला मुख्यालय बेतिया शहर में कलेक्ट्रेट भवन और जिले में सशस्त्र सीमा बल का एक शिविर जलमग्न हो गया. सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें एक कार चालक अपनी जान बचाने के लिए वाहन से बाहर कूदते हुए दिख रहा है.

    जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने कहा कि उत्तर बिहार के कई हिस्सों और पिछले 48 घंटों में पड़ोसी देश नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों में 250 मिमी तक बारिश हुई है. उन्होंने कहा, ‘हमें राज्य में बारिश से ज्यादा नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों में भारी बारिश की आशंका है. वहां भारी वर्षा होने के कारण बैराज से भारी मात्रा में पानी छोड़ा जाता है. आज दोपहर 2 बजे तक चार लाख क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा गया.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.