#MeToo पर एमजे अकबर ने कहा- मुझ पर लगे सारे आरोप बेबुनियाद, करूंगा कानूनी कार्रवाई

#Metoo के तहत यौन शोषण के आरोपों का सामना कर रहे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के इस्तीफा देने की खबर थी. हालांकि, सरकार ने इससे साफ इनकार किया. सरकार का कहना है कि एमजे अकबर ने कोई इस्तीफा नहीं दिया है.

News18Hindi
Updated: October 14, 2018, 7:29 PM IST
#MeToo पर एमजे अकबर ने कहा- मुझ पर लगे सारे आरोप बेबुनियाद, करूंगा कानूनी कार्रवाई
एमजे अकबर की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: October 14, 2018, 7:29 PM IST
यौन शोषण के आरोप में घिरे केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने रविवार को मीडिया के सवालों का जवाब दिया. अकबर ने खुद पर लगे सारे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है. एमजे अकबर ने कहा,'#MeToo के तहत मुझपर बेबुनियाद आरोप लगाए गए हैं, जिससे मेरी इमेज को नुकसान पहुंचा है. मुझपर झूठे आरोप लगाने वाली महिलाओं कानूनी कार्रवाई करूंगा.'

'चुनाव से पहले इतना तूफान क्यों?'
विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने आगे कहा, 'आम चुनावों से कुछ महीने पहले यह तूफान क्‍यों उठा है? क्‍या यह कोई एजेंडा है? इन गलत और भद्दे आरोपों से उनकी साख को काफी नुकसान पहुंचा है. झूठ के पांव नहीं होते लेकिन यह जहर रखता है. जो कि उन्‍माद में फैलाया जा सकता है. ये आरोप परेशान करने वाले हैं.'

#Metoo के तहत यौन शोषण के आरोपों का सामना कर रहे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के इस्तीफा देने की खबर थी. हालांकि, सरकार ने इससे साफ इनकार किया. सरकार का कहना है कि एमजे अकबर ने कोई इस्तीफा नहीं दिया है.

Loading...


इस मामले में पीएम नरेंद्र मोदी ने अभी तक कुछ नहीं कहा है. पीएम की चुप्पी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा,  "प्रधानमंत्री जो हर मुद्दे पर बोलते हैं वह #MeToo पर चुप हैं. उनकी यह चुप्पी पीएम कार्यालय की गरिमा पर सवाल उठाती है. देश इंतजार कर रहा है कि पीएम मोदी कब इस मुद्दे पर अपना रुख साफ करेंगे.”





भारतीय जनता पार्टी ने इस मामले में अब तक पर चुप्पी साध रखी है. पार्टी के सूत्रों का कहना है कि उनके खिलाफ आरोप गंभीर हैं ऐसे में वो आगे मंत्री पद पर काबिज रहेंगे या नहीं इसपर अभी संशय है. उन्होंने कहा कि इस मामले पर अंतिम फैसला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लेंगे. वहीं रविवार को नागपुर में जब पत्रकारों ने परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से इस संबंध में सवाल पूछा तो उन्होंने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

बता दें कि महिलाओं पर यौन शोषण के खिलाफ शुरू हुए #MeToo कैंपेन के तहत सामने आ रहे मामलों की जन सुनवाई के लिए बहुत जल्‍द कमिटी गठित की जाएगी. महिला व बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि रिटायर्ड जजों की चार सदस्‍यीय कमिटी इन सभी मामलों की सुनवाई करेगी.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर