लाइव टीवी

विदेश मंत्रालय ने कहा, कश्मीर पर हमारी बात को दुनिया और अमेरिका जैसे देशों ने समझा

एएनआई
Updated: February 5, 2020, 6:29 PM IST
विदेश मंत्रालय ने कहा, कश्मीर पर हमारी बात को दुनिया और अमेरिका जैसे देशों ने समझा
सरकार का दावा है कि कश्मीर में जीवन धीरे धीरे सामान्य हो रहे हैं. फाइल फोटो.पीटीआई

सरकार ने लोकसभा (Lok Sabha) में एक लिखित सवाल के जवाब में बताया है कि सरकार ने दुनिया के देशों को कश्मीर के हालात के बारे में जानकारी दी है और अमेरिका जैसे देश ये समझते हैं कि वहां पर सुरक्षा संबंधी चुनौतियां हैं

  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले साल 5 अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) में अनुच्छेद 370 (Article 370) के प्रावधानों में बदलाव कर जम्मू कश्मीर और लद्दाख को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बदल दिया. इसके बाद जम्मू कश्मीर में कई तरह के प्रतिबंध लगा दिए गए. कई नेताओं को नजरबंद कर दिया गया. अब तक कई प्रतिबंध हटा दिए गए हैं. लेकिन इंटरनेट पर पाबंदी (Internet ban in Kashmir) अब भी लगी है और कुछ नेता अब भी नजरबंद हैं. विपक्ष लगातार सरकार को इस मुद्दे पर घेर रहा है. अब सरकार ने लोकसभा (Lok Sabha) में एक लिखित सवाल के जवाब में बताया है कि सरकार ने दुनिया के देशों को कश्मीर के हालात के बारे में जानकारी दी है और अमेरिका जैसे देश ये समझते हैं कि वहां पर सुरक्षा संबंधी चुनौतियां हैं.

एक लिखित सवाल के जवाब में विदेश मंत्रालय की ओर से लोकसभा में बताया गया कि अनुच्छेद 370 के हटाने के पीछे तर्क के संबंध में सरकार ने संयुक्त राज्य अमेरिका में वार्ताकारों सहित अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सदस्यों को जानकारी दी गई है. हमने दुनिया को बताया है कि सरकार जम्मू-कश्मीर में स्थिति का सामान्य करने के लिए तेजी से काम कर रही है. विदेश मंत्रालय के अनुसार, अमेरिका ये समझता है कि जम्मू कश्मीर में सुरक्षा के हालात चुनौतीपूर्ण हैं और उन्हें सामान्य करने के लिए समय समय पर कदम उठाने होंगे.

ईरान के चाबहार पोर्ट पर भी सरकार ने दिया जवाब
सरकार ने ईरान में भारत के सहयोग से बन रहे चाबहार बंदरगाह के बारे में भी जवाब दिया. विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया कि भारत ईरान के साथ चाबहार में शाहिद बेहस्ती में बंदरगाह बना रहा है. भारतीय कंपनी इंडिया पोर्ट्स ग्लोबल लिमिटेड ने दिसंबर 2018 में बंदरगाह संचालन को संभाल लिया है और 5 लाख टन कार्गो का सफलतापूर्वक संचालन किया है.

यह भी पढ़ें...

बुरी खबर! भूटान जाने के लिए अब भारतीयों को देनी होगी 1200 रुपये/दिन की फीस

जानिए राममंदिर ट्रस्‍ट में कौन-कौन होंगे सदस्‍य और कैसा होगा मंदिर का नक्‍शा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 6:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर