विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बोले- मालूम नहीं कि राजनाथ सिंह चीनी रक्षा मंत्री से मिलेंगे या नहीं

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बोले- मालूम नहीं कि राजनाथ सिंह चीनी रक्षा मंत्री से मिलेंगे या नहीं
चार सितम्बर को होने वाली एससीओ के रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के अलावा सिंह अपने रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू और कई अन्य शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ बातचीत करेंगे (फाइल फोटो)

विदेश मंत्रालय (MEA) के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव (Anurag Srivastava) ने बताया है कि उन्हें राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) की रूस में शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक के दौरान चीनी रक्षा मंत्री (Chinese Defence Minister) से मुलाकात को लेकर कोई जानकारी नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2020, 6:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. विदेश मंत्रालय (MEA) को जानकारी नहीं है कि रक्षा मंत्री (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) रूस दौरे के दौरान चीनी रक्षा मंत्री से मिलेंगे या नहीं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बताया है कि राजनाथ सिंह रूस में शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक के दौरान रूसी रक्षा मंत्री से मुलाकात करेंगे. दोनों नेताओं के बीच महत्वपूर्ण द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा होगी. लेकिन जब श्रीवास्तव से चीनी रक्षा मंत्री से राजनाथ सिंह की मुलाकात को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जानकारी नहीं है.

इससे पहले बुधवार को खबर आई थी कि शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की एक महत्वपूर्ण बैठक में भाग लेने के लिए रूस स्थित मॉस्को रवाना हो रहे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह चीनी समकक्ष से मुलाकात नहीं करेंगे. यह जानकारी सूत्रों के हवाले से आई थी. समाचार एजेंसी ANI के अनुसार रक्षा मंत्री के शेड्यूल में चीनी समकक्ष से मुलाकात का जिक्र नहीं है. बता दें SCO की मीटिंग ऐसे में समय में हो रही है जब वास्तविक नियंत्रण रेखा पर बीते 3 महीने से ज्यादा समय से गतिरोध जारी है. हाल ही में 29 और 30 अगस्त को भी चीनी सैनिकों ने सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश की हालांकि भारतीय सैनिकों ने उनका मुकाबला किया और उन्हें सीमा पार ही रोक दिया.


अधिकारियों ने बताया कि चार सितंबर को होने वाली एससीओ के रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के अलावा सिंह अपने रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू और कई अन्य शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ बातचीत करेंगे जिसका उद्देश्य कई रक्षा खरीद कार्यक्रमों के कार्यान्वयन में तेजी लाना है. उन्होंने बताया कि सिंह पांच सितंबर की शाम को मॉस्को से रवाना होंगे. रक्षा मंत्री की यह यात्रा रूस में बहुपक्षीय युद्ध अभ्यास में हिस्सा लेने से भारत के पीछे हटने के कुछ दिन बाद हो रही है जिसमें चीनी और पाकिस्तानी सैनिकों के भी हिस्सा लेने की उम्मीद है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज